Home » इंडिया » ISRO launches Chandrayaan-2: Strange Assumptions of Space Agencies
 

Chandrayaan 2 Launch: मिशन की सफलता के लिए बस के टायर पर मूत्र विसर्जन करते हैं अंतरिक्ष यात्री

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 July 2019, 15:21 IST

ISRO ने इतिहास रचते हुए चंद्रयान-2 को लॉन्च कर दिया है. श्रीहरिकोटा के सतीश धवन स्पेस सेंटर से सोमवार दोपहर 2:43 मिनट पर चंद्रयान-2 को लॉन्च किया गया. चंद्रयान-2 को चंद्रमा पर भेजने की पूरी प्रक्रिया में विज्ञान वरदान है, लेकिन मान्यताओं और रीति-रिवाज का भी विज्ञान की सफलता में बहुत ही महत्व है.

इसरो के अभियान से पहले वैज्ञानिक तमाम तरह के धार्मिक अनुष्ठान और मान्यताओं को पूरा करते हैं. आमतौर पर इसरो मंगलवार के दिन किसी रॉकेट को अंतरिक्ष में नहीं भेजता. आप जानकर हैरान रह जाएंगे कि किसी भी अंतरिक्ष अभियान से पहले इसरो के वैज्ञानिक आंध्र प्रदेश के तिरुमाला में प्रसिद्ध भगवान वेंकटेश्वर की पूजा करते हैं.

वैज्ञानिक तिरुमाला में रॉकेट का एक छोटा मॉडल चढ़ाते हैं, ताकि उन्हें उनके मिशन में सफलता मिले. आपको ये जानकर अचंभा होगा कि सिर्फ ISRO ही नहीं, अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी NASA, रूस की अंतरिक्ष एजेंसी और दुनियाभर की अंतरिक्ष एजेंसी अपने अभियान की सफलता के लिए धार्मिक अनुष्ठान करते हैं.

बस के टायर पर मूत्र विसर्जन की है परंपरा

रूस के अंतरिक्ष यात्री किसी भी अभियान पर जाने से पहले उस बस के दाहिने पहिए पर मूत्र विसर्जन करते हैं, जो उन्हें लॉन्च पैड तक ले जाती है. दरअसल, 12 अप्रैल 1961 को जब यूरी गैगरिन अंतरिक्ष में जाने वाले थे तो उन्हें बहुत तेज पेशाब लगी. इसके बाद उन्होंने बस रुकवाकर उसके पीछे के दाहिने पहिए पर मूत्र विसर्जन किया था. यूरी गैगरिन का वह मिशन सफल रहा था. इसके बाद से ही रूस में यह परंपरा के तौर पर चल रहा है.

उलटी गिनती नहीं करते ISRO के वैज्ञानिक

इसरो के वैज्ञानिक राहु काल के समय जब रॉकेट लॉन्चिंग करते हैं तो उलटी गिनती नहीं करते. इसरो के अनुसार, यह समय किसी भी नए काम को शुरू करने के लिए अशुभ माना जाता है. इसरो के सभी मशीनों और यंत्रों पर त्रिपुंड बना है. यह त्रिपुंड भगवान शिव के माथे पर दिखता है. यह कुमकुम से बनाया हुआ है.

कर्नाटक: कांग्रेस-JDS के इस प्लान से BJP को मिलेगी मात, हाथ मलते रह जाएंगे येदियुरप्पा !

First published: 22 July 2019, 15:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी