Home » इंडिया » Jammu And Kashmir: Muslim dominated regions youth want to join Indian Army
 

कश्मीर में आने लगा बदलाव, मुस्लिम इलाकों के युवाओं में सेना का क्रेज, 29000 ने लिया भर्ती में हिस्सा

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 September 2019, 9:10 IST

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के अनुबंधों को कमजोर किए जाने के बाद अब घाटी में स्थिति धीरे-धीरे सामान्य हो रही है. वहीं मुस्लिम बहुल इलाकों में सेना में भर्ती होने का क्रेज भी बढ़ा है. सेना की भर्ती में स्थानीय युवा पूरे जोश के साथ हिस्सा ले रहे हैं. मुस्लिम युवा भी सेना में शामिल होकर देशसेवा करना चाहते हैं.

कश्मीर के मुस्लिम बहुल चिनाब घाटी और पीर पंजाल क्षेत्र के युवा सेना में भर्ती होने के लिए कतार लगा रहे हैं. 3 सितंबर से एक सप्ताह तक चलने वाले सैन्य भर्ती अभियान में 6000 से अधिक युवा शामिल हो चुके हैं. रामबन और किश्तवाड़ जिले के भी 2500 युवा शामिल हैं. डोडा के 3600 युवक सेना भर्ती में अपनी किस्मत आजमा रहे है.

राजौरी जिले के भी 8000 से अधिक युवा सेना में भर्ती होने के लिए अपना नाम रजिस्टर्ड करा चुके हैं. पूंछ और रियासी जिले के 4000 से अधिक नाम सेना में भर्ती के लिए आए हैं. उधमपुर जिले के भी 8000 से अधिक युवा सेना भर्ती अभियान में हिस्सा ले रहे हैं. 

भर्ती अभियान में हिस्सा लेने वाले उम्मीदवारों को पहले फिजिकल फिटनेस टेस्ट पास करना होगा. फिर जिन्हें शॉर्टलिस्ट किया जाएगा वो लिखित परीक्षा में शामिल होंगे. इसके बाद मेडिकल टेस्ट होगा.

भर्ती प्रक्रिया से जुड़े अधिकारी ने कहा कि पूरी प्रक्रिया कम्प्यूटराइज्ड और पूरी तरह से पारदर्शी है। इसमें खामी की कोई आशंका नहीं है

First published: 5 September 2019, 9:24 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी