Home » इंडिया » Jammu and Kashmir: Six spy arrested of ISI
 

जम्मू को आतंक का गढ़ बनाना चाहता था पाकिस्तान, नापाक साजिश का पर्दाफाश, 6 जासूस गिरफ्तार

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 June 2019, 18:10 IST

जम्मू क्षेत्र में आतंकवाद को फिर से जीवित करने के एक बड़े षडयंत्र का पर्दाफाश हुआ है. भारतीय सेना ने पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी (आईएसआई) के छह जासूसों को गिरफ्तार किया है. सेना के अधिकारियों ने जानकारी दी कि सबसे पहले दो जासूसों को जम्मू में रत्नुचक सैन्य स्टेशन के बाहर वीडियो बनाने और तस्वीरें खींचने को लेकर गिरफ्तार किया गया था. इन जासूसों की गिरफ्तारी मई महीने में हुई थी.

अधिकारियों ने बताया कि आतंकियों ने संवेदनशील सैन्य स्टेशन को निशाना बनाने की कोशिश की थी. इससे पहले दिसंबर में उन्होंने एक चौकी पर तैनात संतरी पर गोली चलाई थी. अधिकारियों ने जानकारी दी कि गिरफ्तार जासूसों से कई इलाकों की तस्वीरें और वीडियो बरामद किए गए हैं.

ये छह जासूस सीधे अपने आका के संपर्क में थे. उनका आका आईएसआई कश्मीर प्रकोष्ठ में कर्नल रैंक का अधिकारी है. उनके आका की पहचान इफ्तिखार के नाम से हुई. अधिकारियों ने बताया कि जासूसों का सीमा पार आतंकवादी संगठन हिज्बुल-मुजाहिदीन से भी सीधा संपर्क था.

अधिकारियों ने गिरफ्तार किए गए जासूसों मुश्ताक अहमद मलिक और कठुआ जिले के रहने वाले नदीम अख्तर से गहन पूछताछ की. जासूसों ने सुरक्षा अधिकारियों को बताया कि उन्हें पीओके के आकाओं द्वारा निर्देशित किया जा रहा था. दोनों जासूसों ने जम्मू में पाकिस्तानी जासूसों के रूप में काम कर रहे चार अन्य जासूसों के बारे में जानकारी दी.

Video: ईद के दिन कश्मीर के मस्जिद में खुलेआम हथियार लहराते रहे आतंकी, पाकिस्तान को बताया भाई

जानिए क्यों सोनिया गांधी से मिले मोदी सरकार के मंत्री प्रहलाद जोशी और नरेंद्र तोमर?

First published: 7 June 2019, 18:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी