Home » इंडिया » Jammu Kashmir: Encounter with Terrorist one SOG Jawan martyred one JKP and 2 CRPF injuries
 

जम्मू-कश्मीर: पत्रकार सुजात बुखारी के हत्यारे लश्कर के आतंकी को पकड़ने में सुरक्षाकर्मी शहीद

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 August 2018, 10:50 IST

राइजिंग कश्‍मीर अखबार के संपादक शुजात बुखारी की हत्या के आरोपी आतंकी को पकड़ने में आज सुबह एक सुरक्षाकर्मी की मौत हो गई. आतंकी नवीद जट्ट पिछले दिनों श्रीनगर के पत्रकार शुजात बुखारी के हत्या में शामिल था. इसके बाद से ही पुलिस और सेना उसकी तलाश में जुट गई थी. आज सुबह जानकारी मिलते ही सुरक्षा बलों ने लश्कर कमांडर नवीद जट्ट को घेर लिया था. जिसके बाद मुठभेड़ में एक सुरक्षाकर्मी शहीद हो गया.

बता दें कि, लश्कर के मोस्ट वांटेड आतंकी नवीद जट्ट उर्फ हंजला को शोपियां में आतंकियों के जनाजे में देखा गया था. उसने शोपियां एनकाउंटर में मारे गए अपने साथी आतंकियों को हवाई फायरिंग से सलामी दी थी. तब शोपियां एनकाउंटर में सुरक्षा बलों ने पांच आतंकियों को मार गिराया था.

 

एक अधिकारी ने बताया कि सुरक्षा बलों ने सुबह आतंकवादियों की मौजूदगी की जानकारी मिलने के बाद बटमालू के दियारवानी में घेराबंदी कर तलाश अभियान शुरू किया था. उन्होंने बताया कि आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर गोलियां चलाईं जिसके बाद सेना ने भी जवाबी कार्रवाई की और अभियान मुठभेड़ में तब्दील हो गया. इस मुठभेड़ में एक पुलिसकर्मी की मौत हो गई वहीं सुरक्षा बल के तीन जवान घायल हो गए. घटना की जानकारी पुलिस महानिदेशक एक पी वैद्य ने दी.

पढ़ें- राइजिंग कश्मीर के एडिटर सुजात बुखारी की हत्या में लश्कर का हाथ, पुलिस ने जारी किए सीसीटीवी फुटेज!

बता दें कि राइजिंग कश्‍मीर अखबार के संपादक शुजात बुखारी की हाल ही में 14 जुलाई को गोली मारकर हत्‍या कर दी गई थी. इस हमले में बुखारी की सुरक्षा में तैनात 2 जवानों की भी मौत हो गई थी. पुलिस ने बुखारी के हत्यारों का सीसीटीवी फुटेज भी जारी किया था. इसमें तीन संदिग्ध बाइक सवार दिख रहे थे. शुजात बुखारी भारत-पाक शांति वार्ता और कश्मीर विवाद को सुलझाने के लिए लगातार काम कर रहे थे. उनके अखबार 'राइजिंग कश्मीर' को घाटी की आवाज कहा जाता था. 

First published: 12 August 2018, 10:50 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी