Home » इंडिया » Jammu-Kashmir: ISI Sniper terrorist under conspiracy attacked army camp and policemen
 

जम्मू-कश्मीर: हसीनाओं ने भेष में घूम रहे स्नाइपर आतंकी, नकाब के पीछे हैं खौफनाक चेहरे

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 November 2018, 13:41 IST

जम्मू कश्मीर में सेना का आतंकियों को सफाया करने का अभियान जोर पकड़ता जा रहा है. इसी से बैखलाए आतंकी कभी सेना के कैंप तो कभी पुलिस वालों और उनके घर वालों को निशाना बना रहे हैं. हाल ही में सेना पर स्नाइपर अटैक की भी खबरें आई थीं. सुरक्षा बल सरहद पर इन स्नाइपर आतंकियों में खोज में लगे हैं. ऐसे में एक खबर आई है कि इस बार सरहद पार से आतंक को हुस्न के पीछे छिपा कर भेजा जा रहा है.

इस बार घाटी में आतंक फैलाने के लिए दहशतगर्दों ने नया तरीका निकाला है. स्नाइपर आतंकी लड़कियों का भेष बना आकर घाटी में घुस रहे हैं. नकाब के पीछे के ये चेहरे असल में खतरनाक स्नाइपर यानी शार्प शूटर हैं.
भारतीय सेना ऐसे ही चेहरों की खोज में हैं क्योंकि ये बहरुपिए भारतीय सेना के जवानों के क़ातिल है. आज तक की खबर के अनुसार इन्हीं स्नाइपर ने सेना के 2 जवानों समेत 5 सुरक्षाकर्मियों की हत्या कर दी है.

कश्मीर में कानून का हाथ छोड़ आतंक के रास्ते चल पड़े 12 पुलिसकर्मी

कश्मीर में ऐसे ही बहरुपिया बनकर ये जवानों को निशाना बना रहे हैं. 5 सुरक्षकर्मियों को अब तक इन स्नाइपरों ने निशाना बनाया है. इन बहरूपिए आतंकियों को सरहद पार से आतंकी संगठन जैश ने हमले के भेजा है. इन स्नाइपरों ने दो-दो के गुट बनाए गए हैं. पाक की खुफिया एजेंसी आईएसआई ने खुद इन लड़कियों के भेष वाले आतंकियों को ट्रेनिंग दी है.

सूत्रों ने एक खुफिया रिपोर्ट जो कि गृह मंत्रालय को भेजी गई है उसके हवाले से बताया है कि जैश के ये स्नाइपर दो समूहों में सितंबर के महीने में भारत में घुसे हुए हैं. इनके पास अत्याधुनिक हथियार भी है. इनमें से एक अबु कारी है जिसकी ये तस्वीर सामने आई है.

लेकिन अब इस अबु कारी का चेहरा बेनकाब हो चुका है. छिप कर सेना पर हमले करने वाले ये स्नाइपर अब सेना के निशाने पर हैं. घाटी में अब तक 5 सुरक्षकर्मियों की हत्या के पीछे अबु कारी और उस जैसे स्नाइपर्स का ही हाथ बताया जा रहा है.

First published: 1 November 2018, 13:41 IST
 
अगली कहानी