Home » इंडिया » Jammu-kashmir: major Leetul Gogoi indict in Valley woman case, army may order a court martial
 

मेजर गोगोई आर्मी की कोर्ट ऑफ इन्‍क्‍वॉयरी में दोषी साबित, होगी बड़ी कार्रवाई!

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 August 2018, 14:56 IST

मेजर लितुल गोगोई को कोर्ट ऑफ़ इन्‍क्‍वॉयरी में दोषी ठहराया जा सकता है. 23 मई को मेजर गोगोई को कथित तौर पर एक कश्मीरी महिला के साथ श्रीनगर के एक होटल में देखा गया था. इसके बाद से ही विवाद काफी बढ़ गया था और सेना को मेजर गोगोई के खिलाफ जांच शुरू करनी पड़ी.

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक़ मेजर गोगोई को कम से कम दो आरोपों के आधार पर दोषी ठहराया जा सकता है. एक ऑपरेशनल क्षेत्र में ड्यूटी के दौरान ड्यूटी की जगह से दूर होना और आधिकारिक सेना की पॉलिसी के खिलाफ जाकर एक स्थानीय महिला से दोस्ती या मेलजोल बढ़ाना.

ये भी पढ़ें- फेसबुक पर फेक अकाउंट बनाकर मेजर गोगोई ने की थी लड़की से दोस्ती

इंडियन एक्‍सप्रेस ने सूत्रों के अनुसार इन्‍क्‍वॉयरी रिपोर्ट XV कोर के पास भेज दी गई है और इस रिपोर्ट के आधार पर मिलिट्री लॉ के तहत उन पर कार्रवाई की जा सकती है.
गौरतलब है कि 31 मई को जम्‍मू कश्‍मीर पुलिस की स्‍टेटस रिपोर्ट में लिखा था कि 'मेजर गोगोई के खिलाफ कोई केस नहीं बनाया गया है और न ही होटल मालिक और उस लड़की की तरफ से कोई शिकायत दर्ज कराई गई है.'

ये भी पढ़ें- मेजर गोगोई के साथ होटल में पकड़ी गई युवती की मां का खुलासा- आधी रात को घर में मारा छापा

मेजर गोगोई के खिलाफ ये कोर्ट ऑफ इन्‍क्‍वॉयरी एक ब्रिगेडियर रैंक के ऑफिसर के अंडर की गई. इसमें मेजर गोगोई का बयान भी दर्ज किया गया है. इस इन्‍क्‍वॉयरी की फाइंडिंग्‍स के हिसाब से उसे एक मेजर जनरल की ओर से प्रस्‍त‍ावित किया गया है. अब इस पर XV कोर के कमांडर का अप्रूवल मिला है. इस मामले में जल्दी ही फैसला आने की उम्मीद है.

ये भी पढ़ें- कश्मीर: सेना की जीप में युवक को बांधने वाले मेजर गोगोई से होटल में लड़की को लेकर पूछताछ

आरोप साबित होने पर मेजर गोगोई का कोर्ट मार्शल होगा या सिर्फ सजा दी जाएगी इस बात का फैसला आर्मी अथॉरिटी के पास सुरक्षित है.

 

First published: 4 August 2018, 14:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी