Home » इंडिया » Jammu kashmir police declared 30 lakhs reward on Hizbul Mujahideen terrorists
 

कश्मीर से होगा आतंकियों का सफाया, हिजबुल के तीन आतंकियों पर घोषित किया 30 लाख का इनाम

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 October 2019, 14:10 IST

घाटी में आतंकवाद को पूरी तरह से खत्म करने के लिए भारतीय सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस ने पूरी तरह से कमर कस ली है. जिसके लिए पुलिस ने किश्तवाड़ में हिजबुल मुजाहिदीन से जुड़े तीन आतंकियों पर 30 लाख रुपये का इनाम घोषित किया है. इनमें से मोहम्मद अमीन नाम के एक आतंकी पर 15 लाख रुपये रुपये का इनाम घोषित किया गया है.

वहीं रिजाय अहमद और मुदस्सिर हुसैन पर साढ़े सात-साढ़े सात लाख रुपये का इनाम रखा गया है. पुलिस को इन तीनों आतंकवादियों की तलाश है. पुलिस के मुताबिक, इन आतंकियों के बारे में जानकारी देने वाले की पहचान गुप्त रखी जाएगी. बता दें कि ये तीनों आतंकवादी घाटी में हुए कई हमलों में शामिल रहे हैं.

शनिवार को श्रीनगर के काका सराय इलाके में आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर ग्रेनेड से हमला किया था. इस हमले में 6 जवान घायल हो गए थे. सेना के मुताबिक, शनिवार को आतंकियों ने काका सराय इलाके में सीआरपीएफ बंकर पर ग्रेनेड फेंका. ये हमला केरन नगर पुलिस स्टेशन पर शाम 6:50 बजे हुआ था. उसके बाद सभी घायल जवानों को अस्पताल में भर्ती कराया गया. वहीं बीते बुधवार को भी कुलगाम जिले में आतंकियों ने सीआरपीएफ जवानों की टीम पर ग्रेनेड से हमला किया था. बता दें कि कुलगाम जिले के चवलगाम इलाके में हुए इस आतंकी हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल का एक जवान घायल हो गया था.

बता दें कि अगस्त में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से ही पाकिस्तान बौखलाया हुआ है और लगातार भारत में अपनी नापाक हरकतों को अंजाम देने की कोशिश कर रहा है. ऐसे में वह आतंकियों की भारत में घुसपैठ कराने की कोशिश कर रहा है. हालांकि सेना के जवान पाकिस्तान को इन नापाक हरकतों को पूरा नहीं होने दे रहे हैं. हाल ही में भारतीय सेना ने पाक अधिकृत कश्मीर में कई आतंकी ठिकानों पर हमला बोला था. इस हमले में कई लॉन्चिंग पैड तबाह हुए थे.

बच्चा चोरी की अफवाहों के चलते हुई 7 की मौत, NCRB ने घटनाओं को झुठलाया

EPFO की करोड़ों लोगों को चेतावनी, ये काम करने से खाली हो जाएगा आपका PF अकाउंट

दिल्ली एनसीआर में खतरनाक स्तर पर पहुंचा प्रदूषण, पटाखों ने और बढ़ा दी परेशानी

First published: 28 October 2019, 14:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी