Home » इंडिया » Jammu Kashmir Terrorist killed five non Kashmiri labourers in Kulgam
 

जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटने के बाद सबसे बड़ा आतंकी हमला, कुलगाम में पांच मजदूरों की हत्या

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 October 2019, 9:10 IST

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद सबसे बड़ा आतंकी हमला हुआ है. ये हमला ऐसे वक्त में हुआ है जब यूरोपियन यूनियन के सांसद जम्मू-कश्मीर के दौरे पर हैं. मंगलवार को कुलगाम में आतंकियों ने पांच मजदूरों को गोली मारकर हत्या कर दी. साथ ही इस हमले में एक मजदूर के घायल होने की भी खबर है. आतंकियों ने जिन मजदूरों की हत्या की है वे सब पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद के रहने वाले थे.

इनके नाम शेख कमरुद्दीन, शेख एमडी रफीक, शेख मर्सुलिन, शेख निजामुद्दीन और मोहम्मद रफीक हैं. इस घटना पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दुख जताया है. सीएम बनर्जी ने एक ट्वीट कर कहा, "कश्मीर में नृशंस हत्याओं से हम स्तब्ध और दुखी हैं. मुर्शिदाबाद के पांच मजदूरों की जान चली गई. हमारे शब्द मृतक के परिवारों के दुःख को दूर नहीं करेंगे. इस दुखद घड़ी में परिवारवालों को सभी तरह की मदद दी जाएगी."

इस घटना के बाद सुरक्षा व्यवस्ता और कड़ी कर दी गई है. वहीं हमले में शामिल आतंकियों को पकड़ने के लिए सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस सर्च ऑपरेशन चला रही है. बता दें कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद यह सबसे बड़ा आतंकी हमला है. मोदी सरकार ने पांच अगस्त को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने का ऐलान किया था. केंद्र सरकार के इस फैसले के बाद पाकिस्तान बौखलाया हुआ है और लगातार जम्मू-कश्मीर में आतंकी भेजने की साजिश रच रहा है. अनुच्छेद 370 हटने के बाद आतंकी घाटी में उन लोगों को सबसे अधिक अपना निशाना बना रहे हैं जो कश्मीर से बाहर के हैं. जिनमें ट्रक ड्राइवर और मजदूर शामिल हैं.

बता दें कि इससे पहले सोमवार को आतंकियों ने उधमपुर जिले के एक ट्रक चालक की अनंतनाग में हत्या कर दी थी. अनुच्छेद 370 हटने के बाद आतंकवादियों के हमले में मारा जाने वाला यह चौथा ट्रक ड्राइवर था. उससे पहले 24 अक्टूबर को भी आतंकवादियों ने शोपियां जिले में दो गैर कश्मीरी ट्रक ड्राइवरों को मौत के घाट उतार दिया था. वहीं 14 अक्टूबर को शोपियां जिले में भी दो आतंकवादियों ने राजस्थान पंजीकरण नंबर वाले एक ट्रक ड्राइवर की हत्या कर दी थी. इसके दो दिन बार शोपियां जिले में भी आतंकवादियों के हमले में पंजाब के सेब व्यापारी चरणजीत सिंह की मौत हो गयी थी साथ ही संजीव नाम का ट्रक ड्राइवर घायल हो गया था.

केरल में दो दिन में मार गिराए गए चार नक्सली, कांग्रेस और माकपा ने की हत्याओं की निंदा

अभी भी तबाही मचा सकता है चक्रवाती तूफान क्यार, इस दिन तक होगा कमजोर

First published: 30 October 2019, 9:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी