Home » इंडिया » Jat Hinsa: Rohtak IGP, two DSPs suspended for negligence
 

जाट आरक्षण हिंसा: रोहतक के आईजी सहित दो डीएसपी निलंबित

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 February 2016, 13:52 IST

हरियाणा में जाट आरक्षण आंदोलन के दौरान हुई हिंसा को संभालने में विफल रोहतक के पूर्व आईजी पी श्रीकांत जाधव को निलंबित कर दिया गया है.

उनके अलावा हिंसा पर काबू पाने में विफल होने के आरोपों के बाद दो डीएसपी अमित भाटिया और अमित दहिया को भी सस्पेंड कर दिया गया है.

दूसरी ओर विजिलेंस ब्यूरो के महानिदेशक पद से डीजीपी यशपाल सिंघल को हटा दिया गया है. उनकी जगह डीजीपी (जेल) परमिंद्र राय को सौंपा गया है.

पढ़ें: जाट आरक्षण आंदोलन के दौरान मुरथल में 10 महिलाओं से बलात्कार!

हरियाणा के अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) पी के दास ने कहा, ‘ निलंबन की कार्रवाई रोहतक में आंदोलन और संबंधित हिंसा नियंत्रित करने में कर्तव्यों का ठीक तरीके से निर्वहन नहीं करने के आरोपों के आधार पर किया गया है.'

इससे पूर्व 21 फरवरी को हरियाणा सरकार ने रोहतक रेंज के आईजी श्रीकांत जाधव को राज्य में जाट आंदोलन के बीच हटा दिया था.

पढ़ें: जाट हिंसा का संदेश है, खट्टर से न हो पाएगा...

इसके अलावा हरियाणा सरकार ने तत्काल प्रभाव से छह पुलिस अधिकारियों का ट्रांस्फर कर दिया जिसमें रोहतक और मेहम में तैनात पुलिस अधिकारी भी शामिल हैं जो सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्र थे.

First published: 26 February 2016, 13:52 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी