Home » इंडिया » #Jatreservation: Railway station in Gurgaon set afire by protesters
 

#Jatreservation: बढ़ती जा रही है जाट आंदोलन की आग

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:51 IST

जाट आरक्षण आंदोलन रविवार को भी ठंडा होता नहीं दिखा. हरियाणा के छह जिलों में कर्फ्यू लागू है और हिंसक घटनाओं में नौ लोगों की मौत हो गई है. इसके बावजूद हिंसक घटनाएं, लूटपाट, आगजनी जारी है. पुलिस, अर्धसैनिक बलों समेत सेना की 33 टुकड़ियां पूरे हरियाणा में तैनात की जा चुकी हैं. एनएच 10 और एनएच 1 पर यातायात ठप हो चुका है. हजारों लोग मजबूरन फंसे हुए हैं. राज्य से जुड़ी 800 रेलगाड़ियां या तो रद्द कर दी गई हैं या फिर देर से चल रही है.

दिल्ली-अंबाला रेल ट्रैक पर जाटों के कब्जे के साथ ही सड़क-रेलवे मार्ग पूरी तरह ठप हो चुका है. जगह-जगह पर लोग दुकानों, वाहनों, शोरूमों को आग के हवाले कर रहे हैं. रविवार को राजधानी के जंतर-मंतर पर विरोध प्रदर्शन करने के लिए जाट नेता पहुंच रहे हैं.

गुड़गांव में रेलवे स्टेशन जलाया

रविवार को साइबर सिटी गुड़गांव में भी जाट आरक्षण की आंच दिखी. यहां के धनकोट रेलवे स्टेशन पर आरक्षण की मांग कर रहे आक्रोषित लोगों ने हमला कर दिया. इससके बाद स्टेशन में उपद्रवियों ने आगजनी की.

उपद्रवियों ने रेलवे स्टेशन के रिकॉर्ड रूम को आग के हवाले कर दिया. इससे वहां रखी हुई लाखों रुपये की रेलवे टिकटें जल कर राख हो गईं. स्टेशन पर अफरातफरी का माहौल बन गया. जानकारी मिलते ही रेलवे स्टेशन पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया. 

पुलिस-प्रशासन ने शहर में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए सीआरपीएफ, आरएएफ समेत अर्ध सैनिक बलों की टीमें भी बुला ली गई हैं. 

आरक्षण की आग के चलते गुड़गांव में जल संकट भी पैदा हो गया है. सोनीपत स्थित वेस्टर्न जमुना कैनाल भी टूट गया और साइबर सिटी में पानी की सप्लाई प्रभावित हो गई. प्रशासन ने लोगों से अपील की है कि पानी का इस्तेमाल संभल कर करें. 

दिल्ली में वाटर इमरजेंसी

मुनक नहर से दिल्ली की पानी सप्लाई रोकने से दिल्ली में जल संकट गहराने लगा है. इसके चलते दिल्ली सरकार ने सोमवार को सभी स्कूलों को बंद रखने के साथ ही सोमवार को होने वाली सभी परीक्षाएं रद्द करने की घोषणा कर दी है. 

प्राप्त जानकारी के मुताबिक दिल्ली के मुख्यमंत्री ने रविवार को अपने घर पर दिल्ली जलबोर्ड चेयरमैन सहित एमसीडी अधिकारियों की आपात बैठक बुलाई. इसके बाद सोमवार को सभी निजी और सरकारी स्कूलों को बंद रखने का फैसला लिया गया. 

जलबोर्ड के चेयरमैन कपिल मिश्रा के मुताबिक दिल्ली के सात जल संयत्र बंद हो गए हैं और फिलहाल दो ही काम कर रहे हैं. रविवार सुबह तक ज्यादातर इलाके में पाइप लाइन से पानी की सप्लाई संभव नहीं हो सकी है.

First published: 21 February 2016, 12:01 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी