Home » इंडिया » Jharkhand: 2 dead, several injured as clashes outside thermal plant in Ramgarh turn violent
 

झारखंड: रामगढ़ में पावर प्लांट के बाहर पुलिस फायरिंग, 2 लोगों की मौत

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 August 2016, 14:28 IST

झारखंड के रामगढ़ जिले में इनलैंड पावर प्लांट के गेट पर पुलिस फायरिंग में दो लोगों की मौत की खबर है, जबकि कई लोग घायल हुए हैं. घायलों में पुलिस के जवान भी शामिल है, जिन्हें इलाज़ के लिए रांची के रिम्स रेफ़र कर दिया गया है. इलाके में तनाव को देखते हुए धारा 144 लागू कर दी गई है.

जानकारी के मुताबिक, स्थानीय लोग इनलैंड पावर प्लांट में नौकरी और विस्थापन के मुद्दे को लेकर पिछले एक सप्ताह से फैक्ट्री के बाहर विरोध प्रदर्शन कर रहे थे. बाद में यह विरोध उग्र हो गया और ग्रामीणों ने हंगामा शुरू कर दिया.

इस दौरान मौके पर तैनात पुलिस ने पहले लोगों को समझाने की कोशिश की, तो ग्रामीणों ने पत्थरबाजी शुरू कर दी. जिसके बाद भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी. इस फायरिंग में 2 लोगों की मौत हो गई.

गुस्साए प्रदर्शनकारियों का हंगामा

पुलिस के द्वारा गोली चलाए जाने के बाद पूरे इलाके में तनाव का महौल है. गुस्साए प्रदर्शनकारियों ने कई सरकारी गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया. रांची-सिकदीरी और गोला रोड पर जाम लगा दिया गया.

तनावपूर्ण हालात को देखते हुए अतिरिक्त सुरक्षा बलों को मौके पर रवाना किया गया है. झड़प, गोलीबारी और आगजनी के बाद पूरा इलाका पुलिस छावनी में तब्दील हो गया है.

सीएम ने सात दिन में मांगी रिपोर्ट

सीएम रघुवर दास ने हजारीबाग़ के कमिश्नर और डीआईजी को पूरे मामले की जांच कर 7 दिन में रिपोर्ट सौंपने का आदेश दिया है. फिलहाल इलाके में धारा 144 लगा दी गई है और मामलें की जांच जारी है.

वहीं रामगढ़ में पुलिस फायरिंग में दो लोगों की मौत के विरोध में झारखंड विकास मोर्चा के अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी मंगलवार से हजारीबाग में दो दिनो के उपवास पर बैठ गये हैं.

मरांडी ने गोलीबारी की घटना पर सवाल उठाते हुए पीड़ितों के परिवार के लिए 50 लाख रुपये मुआवजे व नौकरी की मांग की. इस मामले में उन्होंने झारखंड सरकार के मंत्री व स्थानीय विधायक चंद्रप्रकाश चौधरी पर भी सवाल उठाये.

First published: 30 August 2016, 14:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी