Home » इंडिया » Jignesh Mevani fears for encounter after Whatsapp chat of senior cops goes viral on ADR Police & Media in Gujarat
 

जिग्नेश मेवाणी को WhatsApp चैट वायरल होने के बाद एनकाउंटर का खौफ़

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 February 2018, 15:07 IST

गुजरात के वडगाम से निदर्लाीय विधायक और दलित नेता जिग्नेश मेवाणी को अपने एनकाउंटर का डर सता रहा है. वट्सऐप पर एक वीडियो के वायरल होने के बाद उन्होंने अपनी सुरक्षा को लेकर चिंता जताई है.

जिग्नेश ने शुक्रवार को ट्वविटर पर भी इसका जिक्र किया. उन्होंने ट्ववीट कर लिखा, " जिग्नेश मेवाणी का एनकाउंटर? ये गुजराती वेबपोर्टल का लिंक है, जिसमें एक व्हाट्सएप ग्रुप में दो पुलिस अधिकारी बातचीत कर रहे हैं. क्या मेरा एनकाउंटर हो सकता है. क्या आपको विश्वास है." 

'एडीआर पुलिस और मीडिया' नाम के वट्सऐप ग्रुप जिसमें मीडिया और सीनियर पुलिस अधिकारी शामिल है शुक्रवार को चैट वायरल हो गया. इस व्हाट्सएप ग्रुप के दो वीडियो वायरल हो रहे हैं. एक वीडियो में पुलिस वाले नेता की ड्रेस में दिख रहे नेता जैसे शख्स की पिटाई कर रहे हैं. जबकि दूसरे वीडियो में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ का एक इंटरव्यू है. इसमें वो यूपी पुलिस के बदमाशों द्वारा किए गए एनकाउंटर पर पूछे जा रहे सवालों के जवाब दे रहे हैं.

इस ग्रुप में वीडियो अपलोड होने के बाद अहमदाबाद रूरल के डिप्टी एसपी ने एक टेक्स्ट मैसेज किया. उन्होंने लिखा, "जो पुलिस का बाप बनना चाहते हैं और पुलिस को लखोटा कहते हैं और जो पुलिस वालों का वीडियो बनाते हैं, उन्हें याद रखना चाहिए कि उन जैसे लोगों से पुलिस ऐसा ही व्यवहार करती है. हिसाब बराबर. गुजरात पुलिस."

इस मैसेज को फॉलो करते हुए अहमदाबाद ग्रामीण के एसपी ने थम्स अप का इमोजी बनाया. इस पर अहमदाबाद रूरल के डिप्टी एसपी आरबी देवधा ने लिखा, " मैंने इस मैसेज को बस सिर्फ कॉपी पेस्ट किया था जो कि दूसरे ग्रुप से आया था. इसका गलत मतलब निकाला जा रहा है. ये कोई व्यक्तिगत मैसेज और ना ही कोई धमकी है. ये बस एक ग्रुप से दूसरे ग्रुप में शेयर किया गया."

गौरतलब है कि बीते 18 फरवरी को दलित कार्यकर्ता भानु वणकर की मौत के बाद आयोजित अहमदाबाद बंद के लिए धरना देने जा रहे जिग्नेश मेवाणी को गुजरात पुलिस ने हिरासत में लिया था. इस समय जिग्नेश और पुलिस अधिकारियों के बीच जमकर कहासुनी हुई थी जिसका वीडियो भी बाद में वायरल हुआ था.

वायरल हुए वीडियो में जिग्नेश पुलिस वालों से कहते नजर आ रहे हैं कि यह आपके बाप की जागीर नहीं है'. इतना ही नहीं हिरासत में ले रहे सादी वर्दी वाले एक पुलिसकर्मी के लिए जिग्नेश ने 'लखोटा' शब्द का भी इस्तेमाल किया था.

ये भी पढें- गुजरात के मंत्री ने कहा- कसाइयों, तस्करों ने नहीं दिया भाजपा को वोट

First published: 24 February 2018, 14:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी