Home » इंडिया » JNU Row: Delhi police arrests Amit Jani who threatened to kill Kanhaiya Kumar
 

जेएनयू विवाद: कन्हैया को धमकी देने वाला अमित जानी गिरफ्तार

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 May 2016, 11:35 IST

दिल्ली पुलिस ने जेएनयू छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार और उमर खालिद को धमकी देने वाले उत्तर प्रदेश नवनिर्माण सेना के प्रमुख अमित जानी को गिरफ्तार कर लिया है. जानी की गिरफ्तारी दिल्ली से ही हुई है.


गुरुवार को दक्षिणी दिल्ली के ग्रेटर कैलाश इलाके में पुलिस ने छापा मारा. पुलिस के मुताबिक स्पेशल सेल ने जानी को सीआरपीसी की धारा 41 (ए) के तहत गिरफ्तार किया और उसे नई दिल्ली जिला पुलिस को सौंप दिया.


अमित जानी ने इससे पहले सोशल मीडिया पर दावा किया था कि वो आत्मसमर्पण कर देगा, लेकिन वो लगातार अपना मन बदलता रहा. 


14 अप्रैल को मिला था खत



14 अप्रैल को शाम 6 बजे दिल्ली पुलिस को एक फोन कॉल आई थी. फोन करने वाले शख्स ने बताया था कि जेएनयू के पास चलने वाली रूट नंबर 605 की बस में हथियार है. बस उस वक्त इंडिया गेट के पास से गुजर रही थी.


जिसके बाद पुलिस ने जब बस की तलाशी ली, तो पिस्तौल और चार जिंदा कारतूस के अलावा एक धमकी भरी चिट्ठी भी मिली थी. चिट्ठी में कन्हैया और उमर खालिद का सिर कलम करने की धमकी देने वाला एक पत्र था.

पढ़ें: कन्हैया को धमकी देने का मामला, अमित जानी के भाई समेत दो गिरफ्तार

धमकी भरे खत पर पर कथित तौर पर जानी के हस्ताक्षर थे, जो कश्मीरी गेट और वसंत विहार के बीच चलने वाली एक बस में मिला था.

दो आरोपी पहले हुए थे गिरफ्तार



इस मामले में दिल्ली पुलिस ने पहले ही दो युवकों को गिरफ्तार किया था, जिनके नाम सौरभ और सुलभ हैं. आर्म्स एक्ट, धमकी और आपराधिक साजिश के आरोप में दोनों की गिरफ्तारी हुई थी.

सौरभ उत्तर प्रदेश नवनिर्माण सेना के प्रमुख अमित जानी का छोटा भाई है. जानी पहले भी कन्हैया को सोशल मीडिया के जरिए धमकी देता रहा है, धमकी के बाद से वो फरार चल रहा था.

पढ़ें:धमकी मिलने के बाद कन्हैया और उमर की सुरक्षा बढ़ी

First published: 13 May 2016, 11:35 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी