Home » इंडिया » JNU STUDENT BURN MODI EFFIGY AS RAVAN
 

जेएनयू में छात्रों ने फूंका रावण की जगह प्रधानमंत्री मोदी का पुतला !

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 October 2016, 16:25 IST
(एजेंसी)

खबर है कि जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में कांग्रेस समर्थित छात्र संगठन एनएसयूआई के कुछ छात्रों ने मंगलवार की रात दशहरा के मौके पर रावण की जगह कथित तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, योग गुरु बाबा रामदेव समेत उनके तमाम सहयोगियों का पुतला फूंका.

इस मामले में अंग्रेजी समाचार पत्र टाइम्‍स ऑफ इंडिया के मुताबिक जेएनयू में एनसयूआई के एक छात्रनेता मसूद ने बताया कि, 'हां, जेएनयू की एनएसयूआई यूनिट ने रावण की जगह मोदी और रामदेव का पुतला जलाया है.'

मसूद ने कहा, 'हमारा यह विरोध प्रदर्शन वर्तमान सरकार से हमारे गहरे असंतोष को दर्शाने का जरिया है.' रावण की तरह पीएम मोदी का पुतला फूंकते हुए छात्रों ने कार्ड पर नारा लिखा था, 'बुराई पर सत्‍य की जीत होकर रहेगी.'

इस साल अध्‍यक्ष पद के लिए जेएनयूएसयू चुनाव में हिस्‍सा लेने वाले सन्‍नी धीमान ने कहा, 'यह प्रदर्शन सरकार की सामूहिक विफलता का प्रतीक था.' उन्‍होंने कहा, 'मोदी का पुतला फूंका जाना, उनकी सरकार की विफलता को दर्शाता है.'

धीमान ने आगे कहा, 'यह प्रदर्शन गौरक्षा के नाम पर मुस्लिमों और दलितों पर अत्‍याचारों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे यूथ फोरम फॉर डिस्‍कशंस एंड वेलफेयर एक्टिविटीज को नोटिस जारी करने के जेएनयू प्रशासन के फैसले के खिलाफ था. हमें लगता है कि यूनिवर्सिटी ने ऐसा सरकार के दबाव में किया और वह छात्रों को निशाना बना रहे हैं क्‍योंकि इस समूह में ज्‍यादातर मुस्लिम छात्र हैं.'

इस मामले में नाम न प्रकाशित करने की शर्त पर एक अन्‍य छात्र ने कहा, 'देखिए इस सरकार ने देश का क्‍या हाल कर दिया है. पीएम मोदी ने जो वादे जनता से किए थे, वो आज भी कागजों पर ही हैं. वह सिर्फ उन्‍हें भाषणों में दोहराते रहते हैं. इस दशहरा हमने बकवास खत्‍म करने का फैसला किया और तय किया कि उन्‍हें कुछ असल काम करने के लिए मजबूर किया जाए.'

बताया जा रहा है कि पुतले में रावण के मुख्‍य सिर के तौर केन्‍द्र में पीएम मोदी जबकि अन्‍य सिरों में भाजपा के राष्ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह, नाथूराम गोडसे, योग गुरु रामदेव, साध्‍वी प्रज्ञा, योगी आदित्यनाथ और आसाराम बापू सहित अन्‍य के चेहरे लगाए गए थे.

यह विवादास्पद पुतला जेएनयू कैंपस के मशहूर सरस्‍वती ढाबा के नजदीक जलाया गया. पुतला जलाए जाने के समय कुछ छात्रों ने कथित तौर मोदी सरकार के खिलाफ नारे भी लगाए.

First published: 12 October 2016, 16:25 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी