Home » इंडिया » ndtv journalist Barkha Dutt criticise times now' Arnab Goswami on facebook
 

बरखा दत्त: मुझे शर्म आती है कि मैं उसी पेशे में हूं जिसमें अर्नब है

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 July 2016, 16:40 IST
( यूट्यूब स्क्रीनशॉट)

वरिष्ठ पत्रकार बरखा दत्त ने सोशल मीडिया पर वरिष्ठ पत्रकार और कभी उनके साथी रहे अनर्ब गोस्वामी की कटु आलोचना की है.

बरखा ने अपने आधिकारिक फेसबुक पेज पर लिखा है, "टाइम्स नाउ मीडिया पर प्रतिबंध लगाने और पत्रकारों पर कार्रवाई करने और उन्हें सजा देने का मांग कर रहा है. क्या ये आदमी पत्रकार है? मुझे शर्म आती है कि मैं उसी पेशे में हूं जिसमें वो है. उसका खुला कायराना पाखण्ड हैरान कर देने वाला है."

बरखा ने ये टिप्पणी मंगलवार रात को दिखाए गए अर्नब गोस्वामी के प्राइम टाइम शो पर की है. मंगलवार को अर्नब के शो में कश्मीर पर वार्ता में पाकिस्तान को शामिल करने का समर्थन करने को लेकर परिचर्चा की थी.

बरखा ने लिखा है, "वो लगातार प्रो पाकिस्तान डव्स पर ड्रोन गिराता रहा लेकिन बीजेपी और पीडीपी के बीच हुए समझौते के तहत पाकिस्तान और हुर्रियत से बात करने पर बनी आपसी सहमति पर वो चुप रहा. वो खुद मोदी के पाकिस्तान की तरफ हाथ बढ़ाने पर भी चुप रहा. मैं इन दोनों के खिलाफ नहीं हूं लेकिन जब अर्नब इन्हीं विचारों के आधार पर लोगों की देशभक्ति नाप रहे हैं तो वो सरकार के रुख पर क्यों चुप हैं? चमचागिरी?"

बरखा ने अर्नब की इस बात के लिए भी आलोचना की है कि वो ख़ुद पत्रकार होकर मीडिया के दमन का कथित तौर पर समर्थन कर रहे हैं. बरखा लिखती हैं, "कल्पना कीजिए, एक पत्रकार सरकार से मीडिया के एक तबके को बंद करने के लिए कह रहा है, उन्हें गलत तरीके से आईएसआई एजेंट और आतंकियों का समर्थक बता रहा है और उनपर कार्रवाई करने और सजा दिलाने की बात कर रहा है. और हमारी बिरादरी कायराना चुप्पी साधकर सत्ताधारियों का पक्ष ले रही है."

बरखा ने अर्नब के शो में बार-बार अपना नाम लेने पर कहा है कि वो इससे डरेंगी नहीं. बरखा ने लिखा है, "मिस्टर गोस्वामी मैं डर से पीली नहीं पड़ने वाली और आप अपने शो में प्रत्यक्ष या परोक्ष तरीके से चाहे जितनी बार मेरा नाम लें, मैं आपकी राय की जरा भी परवाह नहीं करती. मुझे उम्मीद है कि मैं हमेशा ऐसी पत्रकार बनी रहूंगी जिसकी पत्रकारिता की आप खिल्ली उड़ाते हैं, क्योंकि इस मामले में हम दोनों की भावनाएं एक समान हैं. किसी मुद्दे पर हम दोनों एक ही पक्ष में नज़र आए तो यकीन मानिए मेरी जान ही निकल जाएगी."

First published: 27 July 2016, 16:40 IST
 
अगली कहानी