Home » इंडिया » Journalist Pooja Tiwari case: Chargesheet filed against accused inspector
 

पत्रकार पूजा तिवारी की संदिग्ध मौत: चार्जशीट से बढ़ी इंस्पेक्टर अमित वशिष्ठ की मुश्किलें

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:48 IST

फरीदाबाद में ज़ी समूह की पूर्व पत्रकार पूजा तिवारी की संदिग्ध मौत के मामले में हरियाणा पुलिस ने अपनी जांच पूरी करते हुए आरोप पत्र दाखिल कर दिया है.

हरियाणा पुलिस के अनुसार आरोपपत्र में इंस्पेस्टर अमित वशिष्ठ पर पूजा को आत्महत्या करने के लिए उकसाने का आरोप लगाया है. पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि एसआईटी की टीम ने अपनी जांच में अंतिम समय की कॉल रिकॉर्डिंग, पूजा के दोस्तों से हुई बातचीत और फोरेंसिक विशेषज्ञ की राय को शामिल किया है.

फरीदाबाद: पत्रकार पूजा की संदिग्ध मौत के मामले में इंस्पेक्टर अमित गिरफ्तार

कैच न्यूज़ ने पहले ही जानकारी दी थी कि इंस्पेक्टर अमित की भूमिका इस पूरे मामले में संदिग्ध है. कैच ने सात मिनट एक सेकेंड की एक ऑडियो रिक़ॉर्डिंग का हवाला दिया था. इसी ऑडियो क्लिप के आधार पर ही इंस्पेक्टर अमित की गिरफ्तारी छह मई को हुई थी. 

गौरतलब है कि 2 मई को पत्रकार पूजा तिवारी ने सेक्टर-46 के सद्भावना अपार्टमेंट से कूदकर आत्महत्या कर ली थी. जिस समय पूजा ने आत्महत्या की उस समय उसके साथ उनकी दोस्त अमरीन और हरियाणा पुलिस के इंस्पेक्टर अमित वशिष्ठ मौजूद थे.

पढ़ें: हत्या-आत्महत्या के बीच उलझी ज़ी समूह की पूर्व पत्रकार की मौत

इस मामले में पुलिस ने आरोपी डॉक्टर अर्चना गोयल और उनके पति अनिल गोयल के खिलाफ कोई सबूत न मिलने की बात कही है. सहायक पुलिस आयुक्त आस्था मोदी के मुताबिक पुलिस की जांच अभी जारी है और सभी तथ्यों को परखा जा रहा है.

पूजा और उनके एक पत्रकार दोस्त अनुज मिश्रा पर इसी साल मार्च महीने में एक स्टिंग करके अर्चना गोयल से दो लाख रुपये उगाही करने का आरोप लगा था. रुपये नहीं देने पर डॉक्टर अर्चना के खिलाफ एक खबर स्थानीय वेबसाइट पर पब्लिश की गई थी. इससे नाराज़ डॉक्टर अर्चना ने फरीदाबाद के सेंट्रल थाने में अप्रैल में धारा 384, 420 और आईटी एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज की थी.

डॉक्टर अर्चना फरीदाबाद के सेक्टर-17 में नर्सिंग होम चलाती हैं. उनके पति डॉक्टर अनिल गोयल इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के चीफ रह चुके हैं.

First published: 6 July 2016, 3:55 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी