Home » इंडिया » Justice Dhingra panel to submit report on Robert Vadra land deals today
 

रॉबर्ट वाड्रा लैंड डील पर जस्टिस धींगरा कमीशन आज सौंपेगा रिपोर्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 31 August 2016, 12:33 IST
(कैच न्यूज)

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा समेत विभिन्न कंपनियों के गुड़गांव में जमीन सौदों तथा लाइसेंस की जांच कर रहे जस्टिस एसएन धींगरा आयोग आज अपनी रिपोर्ट हरियाणा सरकार को सौंपने वाले हैं.

हरियाणा की खट्टर सरकार ने 14 मई 2015 को हरियाणा के गुड़गांव और उसके आस-पास की विवादास्पद जमीन सौदों की जांच के लिए जस्टिस एसएन धींगरा आयोग का गठन किया था. आयोग को अपनी रिपोर्ट 6 महीने में देनी थी लेकिन, बाद में इसका कार्यकाल तीन बार बढ़ाया गया.

आयोग ने गुड़गांव के सेक्टर 83 समेत शिकोहपुर, सिकदंरपुर, खेड़की दौला और सिही गांवों में जमीनों को कॉमर्शियल लाइसेंस दिए जाने की जांच की है.

वाड्रा पर आरोप है कि उनकी कंपनी स्काईलाइट हॉस्पिटैलिटी ने जो जमीन गुरूग्राम के शिकोहपुर में साढे सात करोड रुपये में खरीदी थी, वही जमीन लैंड यूज चेंज होने के बाद 55 करोड रुपये से ज्यादा में बेच दी गई.

इस रिपोर्ट में हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा समेत अनेक सरकारी अधिकारियों पर तमाम नियम कानूनों को ताक पर रखकर प्रभावशाली लोगों को फायदा पहुंचाने का आरोप लगाया गया है. इसमें सोनिया गांधी के दामाद राबर्ट वाड्रा की कंपनी भी शामिल बतायी जा रही है. 

रिपोर्ट में जस्टिस धींगरा ने कहा है कि अनेक प्रभावशाली कंपनियों को जिनमें वाड्रा की कंपनी भी शामिल है, उन्हें सीएलयू यानी चेंज आफ लैंड यूज सर्टिफिकेट जारी किए गए, जिसके चलते जमीनों की कीमतें बढ़ गईं. सीएलयू सर्टिफिकेट का मतलब है खेती की जमीन पर व्यवसायिक इस्तेमाल की इजाजत देना.

कार्यकाल बढ़ने के बाद इस आयोग को जून 2016 में अपनी रिपोर्ट दाखिल करनी थी, लेकिन अंतिम समय पर आयोग के सामने कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज आ गए और उसके आधार पर आयोग को जांच के लिए और समय मिल गया.

First published: 31 August 2016, 12:33 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी