Home » इंडिया » Justice Markandey katju agree to apology on contempt of supreme court
 

सुप्रीम कोर्ट की अवमानना पर जस्टिस काटजू माफ़ी मांगने को तैयार

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2017, 5:47 IST
(एजेंसी)

सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जस्टिस मार्कण्डेय काटजू ने सौम्या रेप और मर्डर के मामले में जजों और उनके फैसले की आलोचना को लेकर अवमानना के एक मामले में शुक्रवार को बिना शर्त माफी की पेशकश की.

पूर्व जज काटजू ने सुप्रीम कोर्ट से अपील करते हुए कहा है कि उन्होंने फेसबुक पर किए गए सभी पोस्ट को डिलीट कर दिया है और न्याय प्रक्रिया और न्यायपालिका का आदर करते हैं.

वरिष्ठ अधिवक्ता राजीव धवन द्वारा अपील पर जल्द सुनवाई की मांग के बाद जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि वे इस पर विचार करेंगे. पूर्व जज ने उनके खिलाफ अवमानना की कार्यवाही बंद करने की मांग की है, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 11 नवंबर को शुरू किया था.

जाड़े की छुट्टियों के लिए न्यायालय के बंद होने से पहले अपील पर सुनवाई का अनुरोध करते हुए काटजू ने कहा, "मैं न्यायालय के समक्ष माफीनामा पढ़ने के लिए तैयार हूं."

जस्टिस गोगोई, जस्टिस प्रफुल्ल पंत और जस्टिस उदय उमेश ललित की एक पीठ ने 11 नवंबर को काटजू को नोटिस जारी कर पूछा था कि एक ब्लॉग में जजों की आलोचना को लेकर क्यों न उनके खिलाफ अवमानना की कार्रवाई शुरू की जाए.

गौरतलब है कि जस्टिस काटजू ने अपने ब्लॉग पोस्ट में सौम्या दुष्कर्म व हत्या मामले में फैसला देने वाली पीठ की कटु आलोचना की थी.

काटजू ने लिखा था कि अभियोजन पक्ष यह साबित करने में नाकाम रहा था कि पीड़िता खुद ट्रेन से गिरी थी या उसे धक्का देकर गिराया गया. केवल इस आधार पर आरोपी की मौत की सजा को उम्रकैद में बदल दिया गया.

First published: 10 December 2016, 11:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी