Home » इंडिया » Justice Ranjan Gogoi to be sworn in as Chief Justice of India today
 

जस्टिस रंजन गोगोई ने ली देश के 46वें मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 October 2018, 14:05 IST

न्यायमूर्ति रंजन गोगोई ने बुधवार को भारत के 46वें मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ ले ली. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उन्हें शपथ दिलवाई. सीजेआई रंजन गोगोई उत्तर-पूर्व से भारत के पहले मुख्य न्यायाधीश हैं और उनका कार्यकाल अगले वर्ष नवंबर को समाप्त होगा. गोगोई सीजेआई दीपक मिश्रा के बाद सबसे वरिष्ठ न्यायधीश थे, इसलिए उनके नाम की सिफारिश की गई थी.

न्यायमूर्ति गोगोई ने फरवरी 2001 में गुवाहाटी उच्च न्यायालय के स्थायी न्यायाधीश के रूप में अपना करियर शुरू किया. उन्हें 2010 में पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय में स्थानांतरित कर दिया गया और 2011 में मुख्य न्यायाधीश नियुक्त किया गया. वह 23 अप्रैल 2012 को न्यायाधीश के रूप में सुप्रीम में आए.

इससे पहले इस साल 12 जनवरी को अभूतपूर्व प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद, सीजेआई के पद के लिए उनके नाम को अनदेखा करने की चर्चायें भी चल रही थी. जब न्यायमूर्ति गोगोई और तीन अन्य जजों जस्टिस जे चेलमेश्वर, मदन बी लोकुर और कुरियन जोसेफ ने सुप्रीम कोर्ट में सीजेआई के बेंच आबंटन के मामले में सवाल उठाये थे. 4 सितंबर को सीजेआई मिश्रा ने उच्च पद के लिए उनके बाद सबसे वरिष्ठ न्यायाधीश की सिफारिश करने की परंपरा का पालन किया.

असम के पूर्व मुख्यमंत्री केसब चंद्र गोगोई के बेटे, न्यायमूर्ति गोगोई 1978 में बार में शामिल हुए. उन्होंने मुख्य रूप से गुवाहाटी उच्च न्यायालय में अभ्यास किया, जहां उन्हें 28 फरवरी 2001 को स्थायी न्यायाधीश नियुक्त किया गया. सितंबर 2010 में उन्हें पंजाब में स्थानांतरित कर दिया गया और हरियाणा उच्च न्यायालय, जहां उन्हें 12 फरवरी, 2011 को मुख्य न्यायाधीश के रूप में नियुक्त किया गया. 23 अप्रैल 2012 को उन्हें सर्वोच्च न्यायालय में भेजा गया.

First published: 3 October 2018, 9:52 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी