Home » इंडिया » Karnataka CM Siddaramaiah was ready to sacrifice CM post for a Dalit
 

क्या सिद्घारमैया को पहले से ही पता था हार रही है कांग्रेस?

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 May 2018, 15:56 IST

दो दिन पहले कर्नाटक के सीएम सिद्धारमैया ने एक बड़ा बयान दिया था. सिद्धारमैया ने कहा था कि वह एक दलित के लिए अपनी सीएम पद की दावेदारी छोड़ने को तैयार है. ऐसा उन्होंने क्यों कहा था इसको लेकर कई तरह की चीजें सामने आई थीं.

लेकिन अब सबसे बड़ा सवाल यह है कि क्या सिद्धारमैया को पता था कि कांग्रेस कर्नाटक हारने वाली है? दरअसल जब उन्होंने यह बयान दिया था तो कहा जा रहा था कि कांग्रेस साल 2019 लोकसभा चुनाव में दलितों का समर्थन हासिल करना चाहती है. खबर थी कि कांग्रेस अपने वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे को सीएम बना सकती है.

दरअसल मल्लिकार्जुन खड़गे कांग्रेस के बड़े दलित नेता हैं और उनके नाम पर जेडीएस भी अपना समर्थन दे देती. लेकिन अब जब साफ हो गया है कि कांग्रेस अपने दम पर सरकार नहीं बना पाएगी तो उसने जेडीएस के कुमारस्वामी को मुख्यमंत्री बनाने की पेशकश कर दी है.

इस बीच बीजेपी ने अपने तीन बड़े नेताओं को दिल्ली से कर्नाटक के लिए रवाना कर दिया है, बीजेपी के इन नेताओं में केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा, धर्मेंद्र प्रधान और प्रकाश जावड़ेकर हैं.

ताजा जानकारी के अनुसार, अब बीजेपी के सीएम उम्मीदवार येदियुरप्पा ने अपना दिल्ली दौरा भी रद्द कर दिया है. पहले वह दिल्ली आने वाले थे. अभी तक आये आंकड़ों के अनुसार बीजपी 106 सीटों के आसपास सिमटती दिखाई दे रही है और उसे 112 तक पहुंचने के लिए समर्थन की जरूरत पड़ेगी.

कर्नाटक में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभर रही है लेकिन देखने वाली बात यह होगी कि क्या बीजेपी 112 सीटों के उस जादुई आंकड़े को छू पाती है या नहीं. 

First published: 15 May 2018, 15:54 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी