Home » इंडिया » Karnataka: congress protest at freedom park against yeddyurappa CM oath
 

येदियुरप्पा का शपथ ग्रहण रोकने से नाकाम कांग्रेस ने विधानसभा के बाहर किया जोरदार प्रदर्शन

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 May 2018, 12:04 IST

भारतीय जनता पार्टी के बीएस येदियुरप्पा ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली. सुप्रीम कोर्ट से निराश कांग्रेस येदियुरप्पा की ताजपोशी के खिलाफ सड़क पर उतर आयी है. कांग्रेस ने येदियुरप्पा के सीएम बनने का विरोध किया है.

उधर दिल्ली में भी इस ताजपोशी का कांग्रेस ने विरोध किया. येदियुरप्पा के मुख्यमंत्री बनने के विरोध में कांग्रेस के नेता अशोक गहलोत, गुलाम नबी आजाद और सिद्धारमैया सहित कांग्रेस विधायक विधानसभा में महात्मा गांधी की मूर्ति के पास पहुंचे. येदियुरप्पा के सीएम बनने को असंवैधानिक बताते हुए सिद्धारमैया ने कहा कि हम लोगों से जाकर ये बात बताएंगे की बीजेपी ने सविधान से खिलवाड़ किया है. विधायकों की संख्या पर बोलते हुए सिद्धारमैया ने कहा कि भाजपा को 112 विधायकों का समर्थन दिखाना है, सुप्रीम कोर्ट के फैसले का हवाला देते हुए उन्होंने कहा, ''संख्‍या जरूरी है, सबसे बड़ी पार्टी नहीं.''

ये भी पढ़ें- कर्नाटक: 22 साल बाद खुद को दोहरा रहा है इतिहास, देवगौड़ा के फैसले ने BJP को कर दिया था सत्ता से बाहर

 

 

 

गौरतलब है कि कांग्रेस के ज्यादातर विधायक बेंगलुरु के ईगलटन रिजॉर्ट में ठहराया हुआ है. विरोध करने के लिए कांग्रेस के विधायक रिजॉर्ट से निकलकर बेंगलुरु के फ्रीडम पार्क में पहुंचे. हालांकि येदियुरप्पा की मुश्किलें अभी भी ख़त्म नहीं हुई हैं. आज सुबह शपथ ग्रहण के बाद येदियुरप्पा कर्नाटक की सत्ता पर काबिज हो गए. लेकिन कुर्सी बचाने के लिए 24 घंटों के अंदर ही उन्हें अपने 112 विधायकों की लिस्ट कोर्ट को पेश करनी है.

गौरतलब है कि बीजेपी ने 104 सीटों पर जीत हासिल की है ऐसे में 112 विधायकों के समर्थन की लिस्ट कोर्ट को सौंपना आसान नहीं होगा. येदियुरप्पा अगर 112 विधायकों की लिस्ट नहीं सौंप पाएं तो उन्हें 24 घंटे के भीतर ही मुख्यमंत्री की कुर्सी छोड़नी पड़ सकती है.

First published: 17 May 2018, 10:20 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी