Home » इंडिया » Karnataka election result: asduddin owaisi congrats hd kumarswami for becoming CM
 

कर्नाटक चुनाव: जल्दबाजी कर गए ओवैसी, कुमारस्वामी को दी CM पद की बधाई

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 May 2018, 9:21 IST

कर्नाटक विधानसभा चुनावों के नतीजे घोषित हो चुके हैं. नतीजों से साफ़ है कि बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर सामने आयी है. लेकिन अभी भी बीजेपी पूर्ण बहुमत से दूर है. बीजेपी ने राज्य में 104 सीट पाकर खुद को सबसे बड़ी पार्टी साबित कर दिया है.

वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस का दावा है कि JD(S) को समर्थन देकर सरकार बना सकती है. इस सियासी जोड़-तोड़ में एक बात सामने आयी है कि ओवैसी ने कुमारस्वामी से फोन पर उनकी पार्टी की जीत पर बधाई दी.

ये भी पढ़ें- कर्नाटक चुनाव: जिन्होंने मोदी के लिए छोड़ी थी सीट, अब उस राज्यपाल के हाथ में है CM की चाबी

हैदराबाद के सांसद और AIMIM के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने JD(S) के एचडी कुमारस्वामी को बधाई देने में कुछ जल्दी में दिखे. यही नहीं ओवैसी ने कुमारस्वामी कोअब तक का सबसे बेहतर मुख्यमंत्री भी घोषित कर दिया.

ओवैसी ने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी. ओवैसी ने अपने ट्वीट में लिखा है, 'मैंने एचडी कुमारस्वामी से बात की और उन्हें और उनकी पार्टी की जीत की बधाई दी. मुझे पूरा भरोसा है कि बतौर मुख्यमंत्री कुमारस्वामी अपने पूर्ववर्तियों की अपेक्षा अपने संवैधानिक जिम्मेदारियों को बेहतर तरीके से निभाएंगे और इंशा अल्लाह कर्नाटक उनके नेतृत्व में प्रगति करेगा.'

ये भी पढ़ें- क्या सिद्घारमैया को पहले से ही पता था हार रही है कांग्रेस?

साथ ही उन्होंने बीजेपी पर भी तंज कसते हुए अगला ट्वीट किया, 'मैं JD(S) और BSP को वोट देने वाली जनता का आभारी हूं, साथ ही मैं अपने राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी को भी बधाई देता हूं, क्योंकि वे मेरे और मेरी पार्टी के खिलाफ जहर उगलना जारी रखेंगे.'

मुस्लिमों के लिए ओवैसी ने अगले ट्वीट में लिखा, "कर्नाटक चुनाव के नतीजों ने विधानसभा में मुस्लिम प्रतिनिधित्व को और कम कर दिया है, जो विविधता और अनेकता में विश्वास रखने वाले दलों के लिए चिंता की बात होनी चाहिए."

गौरतलब है कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 104 सीट मिली हैं वहीं कांग्रेस की झोली में 78 सीटें आयी हैं. इसके बाद कांग्रेस JD(S) को समर्थन देकर 117 विधायकों के अपने साथ होने का दावा कर रही है.

 

लेकिन अभी कर्नाटक की सत्ता का भविष्य राज्यपाल वजुभाई वाला के पाले में है. राजयपाल के बुलावे पर ये सत्ता का भविष्य निर्भर करेगा, कि राज्यपाल पहले किसे सरकार बनाने का निमंत्रण देते हैं.

First published: 16 May 2018, 9:21 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी