Home » इंडिया » Karnataka government deliberately framing a hindu man into gauri lankesh murder case: BJP MP Shobha Karandlaje
 

गौरी लंकेश हत्याकांड में चुनाव की वजह से हिन्दू युवक को फंसा रही है सरकार: बीजेपी सांसद

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 March 2018, 11:49 IST

वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश हत्याकांड मामले में पुलिस को एक सफलता हाथ लगी. SIT ने स्केच के आधार पर एक युवक को हिरासत में लिया था. केटी नवीन कुमार को बेंगलुरु के मैजेस्टिक बस स्टैंड से गिरफ्तार किया था. उसके पास से कारतूस और 0.32 बोर का पिस्टल भी बरामद हुआ था.

कुमार पर अवैध हथियारों के व्यापर का भी आरोप था. कुमार को अवैध रूप से पिस्तौल की गोलियां रखने के आरोप में 19 फरवरी को गिरफ्तार किया गया था. उसके खिलाफ सशस्त्र अधिनियम के तहत एक मामला दर्ज किया गया था. अदालत ने कुमार को 8 दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया.

ये भी पढ़ें- केंद्र सरकार के रेड कार्ड के बाद दलाई लामा का इवेंट दिल्ली से धर्मशाला शिफ्ट हुआ 

अवैध असलहों के केस में पुलिस हिरासत में जाने के बाद केटी नवीन कुमार के कुछ मित्रों ने उसके गौरी लंकेश की हत्या से जुड़े होने को लेकर स्वैच्छिक बयान दिए थे. कुमार को हिन्दू युवा सेना से जुड़ा हुआ बताया जा रहा है.

इनसारे सबूतों के बाद भी भाजपा की सांसद शोभा करंदलाजे ने दावा किया है कि गौरी लंकेश की हत्या में किसी हिंदू का हाथ नहीं है. शोभा का कहना है की सरकार इस कलबुर्गी के हत्यारों को पकड़ नहीं पा रही है. इसीलिए अब इलेक्शन के चलते हिन्दू युवक कुमार को गौरी लंकेश हत्याकांड में फंसाया जा रहा है. शोभा का कहना है की कर्नाटक सरकार हत्या का आरोप हिन्दुओं के सर पर मढ़ना चाहती है. उन्होंने कर्नाटक की सिद्धारमैया सरकार को हिंदू और भाजपा विरोधी बताया.

ये भी पढ़ें- गौरी लंकेश हत्याकांड: SIT को मिली बड़ी कामयाबी, हिन्दू युवा सेना से जुड़ा शख़्स गिरफ्तार

भाजपा पर पलटवार कर कांग्रेस ने भी जवाब दिया है. पार्टी ने कहा कि पुलिस अपना काम कर रही है. गिरफ़्तारी के पीछे राजनितिक साजिश नहीं है. कांग्रेस नेता रेणू ने कहा, ''बीजेपी सांसद जिस ढंग से दावा कर रही हैं कि आरोपी हिंदू नहीं है, उससे उन्हें आरोपी के बारे में ज्यादा जानकारी मालुम पड़ती है. यदि वह सारी जानकारियां पुलिस को नहीं देती हैं तो माना जाएगा कि वह सुबूतों को दबा रहीं है.''

एसआईटी ने शुक्रवार (2 मार्च) को 37 वर्षीय केटी नवीन कुमार को गौरी लंकेश की हत्या के मामले में गिरफ्तार किया था. गौरी लंकेश की हत्या पिछले साल 5 सितंबर को हुई थी. पांच महीने में पुलिस की यह पहली गिरफ्तारी रही. पुलिस ने अवैध रूप से हथियार रखने के आरोप में गिरफ्तार केटी नवीन कुमार को इस मामले में पहला आरोपी माना गया था.

विशेष जांच दल ने बेंगलुरु की एक मजिस्ट्रेट कोर्ट को नवीन कुमार के खिलाफ हत्या से जुड़े प्रमाण होने की सूचना दी. कुमार ने गौरी लंकेश हत्याकांड से जुड़े होने को लेकर स्वैक्षिक बयान भी दिया था. पुलिस द्वारा जारी स्केच और इन आरोपों के तहत कुमार को गिरफ्तार किया गया है.

First published: 6 March 2018, 11:49 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी