Home » इंडिया » Kartarpur Corridor; Pakistan show Bhindranwale poster on video song
 

करतारपुर कॉरिडोर: पाकिस्तान ने वही किया जिसका भारत को डर था, स्वागत सॉन्ग में भिंडरावाले

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 November 2019, 10:16 IST

सोमवार को पाकिस्तान के सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने करतारपुर कॉरिडोर जाने वाले सिख तीर्थयात्रियों के स्वागत में एक पंजाबी वीडियो गीत जारी किया. इस वीडियो में खालिस्तानी अलगाववादी नेताओं जरनैल सिंह भिंडरावाले, मेजर जनरल शबेग सिंह और अमरीक सिंह खालसा का पोस्टर दिखाया गया है. जून 1984 में भारतीय सेना ने इन सभी के खिलाफस्वर्ण मंदिर में ऑपरेशन ब्लू स्टार चलाया था. स्वर्ण मंदिर परिसर में स्थित सर्वोच्च सिख लौकिक निकाय अकाल तख्त की एक तस्वीर भी पोस्टर में दिखाई गई है.

इस गाने में पाकिस्तान के कई गुरुद्वारों में जाने वाले सिख तीर्थयात्रियों की क्लिप दिखाई गई है और पोस्टर में गुरुद्वारा जनम अस्थान, गुरु नानक की जन्मस्थली ननकाना साहिब की विशेषता दिखाई दे रही है. वीडियो में इन लोगों का जिक्र इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि एक खालिस्तान समर्थक समूह 'द सिख फॉर जस्टिस' के जनमत संग्रह को पाकिस्तान समर्थन देता रहा है. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और भारतीय खुफिया एजेंसियों ने इसकी आशंका भी व्यक्त की थी.

कहा जा रहा है कि ये संगठन पाकिस्तान के करतारपुर गलियारे का उपयोग कर सकते हैं. इस गलियारे को गुरु नानक की 550 वीं जयंती पर 9 नवंबर को खोला जाना है. इस वीडियो में पंजाब के पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू और केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल, जो नवंबर 2018 में ग्राउंडब्रेकिंग समारोह के दौरान पाकिस्तान गए थे, दिखाई देते हैं.

'करतारपुर कॉरिडोर के पास चल रहे हैं आतंकियों के ट्रेनिंग कैंप'

गीत में सिखों और मुसलमानों की आत्मीयता पर जोर दिया गया है. भारत ने सिख फॉर जस्टिस पर बैन लगाया है. हालही में मीडिया में यह खबर भी आयी थी कि खालिस्तान के लिए जन्मर संग्रह की मांग करने वाला संगठन 'सिख फॉर जस्टिस' कराची स्थित वेबसाइट के कंटेंट को शेयर करती है.

बैंक धोखाधड़ी के मामलों में सीबीआई ने देशभर में 169 स्थानों पर की छापेमारी

First published: 6 November 2019, 10:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी