Home » इंडिया » Kartarpur sahib corridor will start today by vice president, sushma swaraj decline to go to Pakistan
 

आज खुलेगा पाकिस्तान से शांति का रास्ता, उपराष्ट्रपति रखेंगे करतारपुर कॉरिडोर की नींव

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 November 2018, 8:59 IST

भारत-पाकिस्तान के बीच शांति स्थापित करने की दृष्टि से अति महत्वपूर्ण माने जा रहे करतारपुर कॉरिडोर की नींव आज उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू रखेंगे. उनके साथ इस कार्यक्रम में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह भी मौजूद रहेंगे. भारत सरकार ने फैसला किया है कि इस बार गुरु नानक जयंती को बड़े तौर पर मनाया जाएगा. इसी एक तहत करतारपुर कॉरिडोर को बनाने का फैसला किया गया. हालांकि इस बड़े फैसले को लेकर राजनीति भी तेज होती दिख रही है.

पाकिस्तान बॉर्डर से सटे मान गांव में डेरा बाबा नानक (पिंड) और करतारपुर साहिब रोड को मिलाकर एक कॉरिडोर तैयार किया जाएगा. आज इसकी नींव रखने के मौके अपर उपराष्ट्रपति के साथ केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, हरसिमरत कौर बादल भी मौजूद होंगे.

गौरतलब है कि पाकिस्तान अपने मुल्क में करतारपुर साहिब के लिए कॉरिडोर की नींव भारत से 2 दिन बाद यानि 28 नवंबर को रखेगा. इस मौके पर सुरक्षा की दृष्टि से कड़े बंदोबस्त किये गए हैं. सुरक्षा व्यवस्था के चलते 5 किलोमीटर तक इलाके को सील किया गया है.

ये भी पढ़ें- राम मंदिर मामले में उमा भारती ने मांगा आजम खान का साथ, सभी पार्टियों से की साथ आने की अपील

इतिहास में ऐसा पहली बार होगा जब आजादी के बाद से पहली बार बिना रोक टोक बॉर्डर पार किया जा सकेगा. इस कॉरिडोर को भारत और पाकिस्तान के संबंधों के बीच एक अहम कड़ी माना जा रहा है. इस कॉरिडोर के चलते भारत पाकिस्तान के बीच शान्ति संबंधों में प्रगति हो सकेगी.

 

इस मामले में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी हाल ही में कहा था, ''किसने सोचा था कि बर्लिन की दीवार ढह सकती है और ये गलियारा सिर्फ एक सड़क नहीं बल्कि दोनों देशों के बीच रिश्तों के पुल के तौर पर काम करेगा.''

ये भी पढ़ें-  करतारपुर कॉरिडोर समझौते के 24 घंटे भीतर पाकिस्तान ने की ये नापाक हरकत

सुषमा ने किया पाकिस्तान जाने से इंकार

इस मौके अपर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कॉरिडोर के नींव रखने के कार्यक्रम में भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को आमंत्रित किया है. उनके साथ पाकिस्तान से पूर्व क्रिकेटर और पंजाब से मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को भी बुलावा आया है. हालांकि, सुषमा ने इस आमंत्रण को अस्वीकार कर दिया है. उन्होने इस कार्यक्रम के लिए पाक्सितान जाने से मना कर दिया है. पाकिस्तान में होने वाले इस आयोजन में हरसिमरत कौर बादल और हरदीप सिंह पुरी भारत सरकार का प्रतिनिधित्व करेंगे.

First published: 26 November 2018, 8:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी