Home » इंडिया » Kashmir: Army jawan Aurangzeb abducted by terrorists from Pulwama district found dead
 

कश्मीर: अगवा किए जवान को आतंकियों ने गोलियों से किया छलनी, शव के साथ की बर्बरता

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 June 2018, 9:21 IST

कश्मीर के पुलवामा जिले से आतंकियों द्वारा अगवा किए गए सेना के जवान को आतंकियों ने अपनी कायरता का परिचय देते हुए हत्या कर दी. हत्या के बाद आतंकियों ने बर्रबरता करते हुए जवान का सिर पत्थरों से कुचल दिया. शव को पुलवामा के गुसू से बरामद किया गया है.

जवान के अगवा होने की सूचना मिलते ही पुलिस ने पूरे इलाके को घेर कर जवान की तलाश शुरू कर दी थी और पुलवामा में अलर्ट घोषित कर दिया गया था.  

बता दें कि एक दिन पहले जम्मू-कश्मीर से आतंकियों ने पुलवामा जिले से भारतीय सेना के एक जवान का अपहरण कर लिया था. वह ईद मनाने अपने घर जा रहे थे. न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, अपने बटालियन से छुट्टी लेकर सेना का जवान औरंगजेब ईद के मौके पर अपने घर जा रहा था. इसी बीच आतंकियों ने अपनी गंदी साजिश को अंजाम देते हुए उन्हें अगवा कर लिया था. वह पुंछ के रहने वाले थे.

पुलिस के अनुसार, जिस दौरान वह घर जा रहे थे, तभी उन्हें आतंकियों ने मुगल रोड पर गुरुवार सुबह करीब 9 बजे किडनैप कर लिया था. वह एक प्राइवेट व्हीकल से शोपियां की तरफ आ रहे थे. तभी कलमपोरा के पास आतंकियों ने वाहन को रुकवाया और उन्हें अगवा कर लिया.

वह कोई मामूली सैनिक नहीं था. वह एक बड़े मिशन में शामिल रह चुका है. सेना का जवान औरंगजेब खतरनाक आतंकी समीर टाइगर को मार गिराने वाली टीम में भी शामिल था. वह 44 राष्ट्रीय रायफल में शामिल था.

पढ़ें- आर्मी के जिस जवान औरंगजेब का आतंकियों ने किया अपहरण, वह इस बड़े मिशन में रह चुका है शामिल

बता दें कि इसी साल अप्रैल महीने में जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सुरक्षाबलों और पुलिस ने संयुक्त ऑपरेशन में दो आतंकियों को ढेर किया था. इसमें हिज्बुल मुजाहिदीन का टॉप कमांडर समीर टाइगर भी शामिल था. समीर टाइगर 2016 में हिज्बुल मुजाहिदीन में शामिल हुआ था. वह पुलवामा का रहने वाला था और हिज्बुल के कई हमलों में शामिल हो चुका था. बुरहान वानी के बाद समीर को कश्मीर के पोस्टर ब्वॉय के रूप में पेश किया गया था. समीर ने आतंकी वसीम के जनाजे में शामिल होकर फायरिंग भी की थी.

First published: 15 June 2018, 8:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी