Home » इंडिया » Kashmir: Four civilians killed in firing in Budgam district, death toll rises to 64
 

कश्‍मीर घाटी में सुरक्षाबलों के साथ झड़प में 5 की मौत, अब तक 65 मरे

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 February 2017, 8:23 IST

जम्‍मू-कश्‍मीर के बडगाम में सुरक्षाबलों के साथ झड़प में चार नागरिकों की मौत हो गई. सीआरपीएफ जवानों पर पत्थरबाजी के बाद सुरक्षाबलों ने फायरिंग की. इसके अलावा लारकीपोरा में भी झड़प के दौरान एक शख्स की मौत हो गई.

इसके साथ ही कश्‍मीर में आठ जुलाई के बाद जारी हिंसा में मरने वालों की संख्‍या अब 65 हो गई है. हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी की एनकाउंटर में मौत के बाद घाटी में हिंसा भड़क उठी थी.

जानकारी के मुताबिक, मंगलवार सुबह बडगाम जिले के मागम इलाके के अरीपठान में सीआरपीएफ के एक वाहन पर युवकों के एक समूह ने पथराव किया. इसके बाद सुरक्षाबलों ने भीड़ को हटाने के लिए गोलीबारी की, जिसमें चार लोग मारे गए.

इससे पहले सोमवार को 15 अगस्‍त के मौके पर श्रीनगर के नौहट्टा चौक में आतंकी हमला हुआ. इसमें सीआरपीएफ के कमांडिंग अफसर प्रमोद कुमार शहीद हो गये थे. मुठभेड़ के दौरान दो आतंकियों को भी मार गिराया गया.

39 दिन से कर्फ्यू जारी

गौरतलब है कि पिछले महीने हिजबुल के कमांडर बुरहान वानी की एनकाउंटर में मौत के बाद से घाटी में तनाव का माहौल बना हुआ है. हिंसा के कारण घाटी में लगातार 39वें दिन कर्फ्यू जारी है. घाटी के श्रीनगर और अनंतनाग जिले में पूरी तरह से कर्फ्यू है जबकि बाकी जगहों पर कुछ प्रतिबंधों के साथ ढील दी गई है.

अधिकारियों ने बताया कि घाटी के मुख्य बाजार इलाके में नागरिकों के मारे जाने के विरोध में अलगाववादियों के धरने पर बैठने की योजना को विफल करने के लिए कर्फ्यू और प्रतिबंध लगाया गया है.अलगाववादी पहले ही 18 अगस्त तक बंद बढ़ाने का एलान कर चुके हैं. 

इसी बीच मंगलवार को केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह की अध्‍यक्षता में कश्‍मीर मसले पर बैठक हुई. इसमें राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, गृह सचिव और आईबी के निदेशक भी मौजूद रहे.

First published: 16 August 2016, 12:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी