Home » इंडिया » Kashmiri Students info being sought by police
 

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्यों से कश्मीरी छात्रों का ब्यौरा मांगा!

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 March 2016, 13:37 IST

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस की उस रिपोर्ट को खारिज कर दिया है जिसके अनुसार मंत्रालय ने पश्चिम बंगाल की खुफिया पुलिस से राज्य में रह रहे जम्मू-कश्मीर के छात्रों का विवरण मांगा है.

केंद्रीय गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने खबर को 'शरारतपूर्ण' करार दिया है. प्रवक्ता के अनुसार मंत्रालय द्वारा राज्यों को भेजी गई एडवाइजरी और इंडियन एक्सप्रेस की खबर में कोई समानता नहीं है.

मंत्रालय के सूत्रों का कहना है कि जम्मू-कश्मीर के छात्र देश के विभिन्न राज्यों में पढ़ाई कर रहे हैं. 23 फरवरी को गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों को एडवाइजरी जारी करके कहा कि राज्य सरकारें जम्मू-कश्मीर के छात्रों की सुरक्षा सुनिश्चित करें और इन छात्रों के साथ पूरी संवेदनशीलता के साथ पेश आए.

पढ़ें: छात्रों और शिक्षकों ने टाला जादवपुर युनिवर्सिटी में बड़ा टकराव

मंत्रालय ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के लोगों में यह धारणा है कि वहां के लोगों को बाहरी राज्यों में संदेह और शत्रु भाव से देखा जाता है.

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक कोलकाता पुलिस के खुफिया विभाग ने कॉलेजों को एक नोट भेजा है, जिसमें उनसे कहा गया है कि कृपया उन छात्रों की जानकारी मुहैया कराई जाए जिनका स्थायी पता जम्मू-कश्मीर राज्य में आता है. ये जानकारी गृह मंत्रालय, नॉर्थ ब्लॉक को मुहैया कराई जाएगी.

इस नोट की पुष्टि कोलकाता के ज्वाइंट कमिश्नर ऑफ पुलिस (इंटेलिजेंस) ने भी की है. कोलकाता पुलिस के अनुसार ये जानकारियां जुटाने का अनुरोध केंद्रीय खुफिया एजेंसियों की तरफ से आया था. पुलिस का दावा है कि यह जम्मू-कश्मीर के छात्रों पर एक डॉजियर बनाने की कोशिश है ताकि उनकी हरकतों पर नजर रखी जा सके.

आपको बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा यह एडवाइजरी जादवपुर युनिवर्सिटी में जेएनयू के छात्रों के पक्ष में प्रदर्शन  होने के बाद भेजा गया था.

First published: 16 March 2016, 13:37 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी