Home » इंडिया » Kathua Gangrape case: Deadly attack on victims lawyer Talib Hussain
 

कठुआ गैंगरेप केस: पीड़िता को न्याय दिलाने की कोशिश में लगे वकील पर जानलेवा हमला

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 April 2018, 14:49 IST

जम्मू-कश्मीर के कठुआ में दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गई बच्ची को न्याय दिलाने के लिए लड़ रहे वकील पर उधमपुर शहर में कथित रूप से बदमाशों ने जानलेवा हमला किया है. यह हमला शनिवार को किया गया है. वकील ने इसकी शिकायत पुलिस में दर्ज कराई है. पुलिस ने कहा कि उन्होंने हुसैन की शिकायत पर संज्ञान लिया है और जांच शुरू कर दी है

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए पिछले दो महीने से स्थानीय वकील तालिब हुसैन ने मोर्चा संभाल रखा है. हुसैन ने मामले की जांच सीबीआई को सौंपने की मांग कर रहे जम्मू के वकीलों का भी जोरदार तरीके से विरोध किया था.

शनिवार को संयुक्त राष्ट्र ने इस घटना को भयावह करार दिया. संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने सामूहिक दुष्कर्म और हत्या को 'भयावह' बताते हुए दोषियों को कानून के दायरे में लाए जाने की उम्मीद जाहिर की. गुटेरेस के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने शुक्रवार को संवाददाताओं को बताया कि उन्होंने घुमंतू बकरवाल समुदाय की बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म की खबरें देखी हैं. उन्होंने कहा कि हमें आशा है कि प्रशासन इस जघन्य अपराध के लिए जिम्मेदार दोषियों को कानून के दायरे में लाएगा.

इससे पहले कठुआ गैंगरेप मामले पर जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा कि मासूम से रेप करने वालों के खिलाफ कड़ा कानून लाएंगे. उन्होंने पूरे देश से कठुआ मामले में आवाज उठाने पर शुक्रिया कहा. महबूबा ने कहा कि मासूम से रेप के दोषी को फांसी की सजा का कानून लाएंगे. उन्होंने कहा कि रेप और हत्या के मामले में इंसाफ के रास्ते में कोई बाधा नहीं आने दी जाएगी.

महबूबा ने ट्वीट कर कहा, "कुछ लोगों के एक समूह के गैर-जिम्मेदाराना कार्यों और बयानों से कानून के रास्ते में किसी तरह की अड़चन नहीं आएगी. इस मामले पर ठोस कार्रवाई की जा रही है. तेजी से जांच आगे बढ़ रही है और इंसाफ किया जाएगा."

शनिवार को संयुक्त राष्ट्र ने इस घटना को भयावह करार दिया. संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने सामूहिक दुष्कर्म और हत्या को 'भयावह' बताते हुए दोषियों को कानून के दायरे में लाए जाने की उम्मीद जाहिर की. गुटेरेस के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने शुक्रवार को संवाददाताओं को बताया कि उन्होंने घुमंतू बकरवाल समुदाय की बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म की खबरें देखी हैं. उन्होंने कहा कि हमें आशा है कि प्रशासन इस जघन्य अपराध के लिए जिम्मेदार दोषियों को कानून के दायरे में लाएगा.

 

इससे पहले कठुआ गैंगरेप मामले पर जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा कि मासूम से रेप करने वालों के खिलाफ कड़ा कानून लाएंगे. उन्होंने पूरे देश से कठुआ मामले में आवाज उठाने पर शुक्रिया कहा. महबूबा ने कहा कि मासूम से रेप के दोषी को फांसी की सजा का कानून लाएंगे. उन्होंने कहा कि रेप और हत्या के मामले में इंसाफ के रास्ते में कोई बाधा नहीं आने दी जाएगी.

पढ़ें- कठुआ रेप केस: 2 मंत्रियों का इस्तीफा, महबूबा पीडीपी के साथ करेंगी अहम बैठक

महबूबा ने ट्वीट कर कहा, "कुछ लोगों के एक समूह के गैर-जिम्मेदाराना कार्यों और बयानों से कानून के रास्ते में किसी तरह की अड़चन नहीं आएगी. इस मामले पर ठोस कार्रवाई की जा रही है. तेजी से जांच आगे बढ़ रही है और इंसाफ किया जाएगा."

First published: 15 April 2018, 9:05 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी