Home » इंडिया » Kathua Gangrape case: family of the victim remove lawyer deeoika singh because this reason
 

कठुआ गैंगरेप केस: इस बड़ी वजह से पीड़ित परिवार ने वकील दीपिका सिंह को केस से हटाया

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 November 2018, 13:00 IST

कठुआ गैंगरेप केस में पीड़ित परिवार ने केस की अगुवाई कर रही वकील दीपिका सिंह राजावत को केस से हटा दिया है. पीड़ित परिवार का कहना है कि दीपिका के पास सुनवाई के लिए अदालत जाने का समय नहीं है. परिवार ने ये भी बताया है कि दीपिका इस केस में अभी तक हुई 110 सुनवाई में से केवल दो में ही उपस्थित हुई है.

वहीं इस मामले में दीपिका सिंह ने आजतक से हुई बातचीत में सफाई देते हुए कहा है कि ये खबर उनके लिए चौकाने वाली है. उन्होंने कहा कि इस बात से वह बहुत हैरान हैं. केस के मामले में उन्होंने बताया कि मेरे यहां से पठानकोठ 250 किमी दूर है और कोई भी युवा वकील जम्मू में मुझसे जुड़ना नहीं चाहता है क्योंकि उन्हें मुझसे जुड़ने से डराया जाता है.

कठुआ-उन्नाव रेप केस: बहुत हुआ नारी पर वार, अबकी बार मोदी सरकार निकला जुमला !

आगे दीपिका ने कहा, '' लोअर और हाई कोर्ट दोनों का काम मेरे ऊपर है और मैं वित्तीय संकट से जूझ रही हूं. पीड़िता के परिवार ने कभी मुझसे संपर्क नहीं किया. वह संपर्क से दूर हैं.'' सुनवाई के दौरान अपने मौजूद न होने पर सफाई देते हुए दीपिका ने कहा, ''सुनवाई के लिए वह एक दो बार जा चुकीं हैं. राज्य का मामला सार्वजनिक अभियोजक द्वारा संभाला जाता है. मैं उनके बिना उपस्थित रहने में सक्षम नहीं था. 2 वरिष्ठ आपराधिक वकील पठानकोट अदालत में वास्तव में इसे अच्छी तरह से संभालने में कामयाब रहे हैं. उस समय कोई नहीं था, मैं सबसे आगे थी, मेरी जरूरत थी, अब मेरी जरूरत नहीं है.''

आगे दीपिका ने ये भी कहा कि अगर मेरी वहां रहने की जरूरत पड़ी तो इससे मुझे कोई नहीं रोक सकता. लेकिन मुझे पेशेवर प्रतिबद्धताओं को पूरा करने के लिए यहां रहने की जरूरत है. कुछ लोगों का नाम न लेते हुए उन्होंने कहा कि कुछ पेशेवर लोग उनके खिलाफ इस तरह का काम कर रहे हैं.

First published: 15 November 2018, 13:00 IST
 
अगली कहानी