Home » इंडिया » Kathua rape & murder case: Sanji Ram, Parvesh Kumar and Deepak Khajuria have been sentenced to life imprisonment
 

कठुआ गैंगरेप एवं मर्डर केस में सजा का ऐलान, कोर्ट ने तीन दोषियों को दी उम्रकैद की सजा

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 June 2019, 17:17 IST

जम्मू-कश्मीर के कठुआ में पिछले साल जनवरी में 8 साल की मासूम के साथ रेप और मर्डर की घटना पर कोर्ट ने आज अपना फैसला सुनाया. कुल सात में से 6 आरोपियों को दोषी करार दिया गया. कोर्ट ने इन 6 में से तीन आरोपियों को उम्रकैद की सजा सुनाई है जबकि तीन आरोपियों को पांच-पांच साल की सजा का ऐलान किया है.

उम्रकैद की सजा सुनाने वाले दोषियों में सांझी राम, दीपक खजुरिया और परवेश का नाम शामिल हैं. वहीं कोर्ट ने तिलक राज, आनंद दत्ता और सुरेंद्र कुमार को 5-5 साल कैद की सजा सुनाई है. आज सुबह की पठानकोट की अदालत ने मुख्य आरोपी सांझी राम समेत अन्य 6 आरोपियों को दोषी करार दिया था. वहीं सातवें आरोपी को बरी कर दिया था.

पिछले साल 10 जनवरी को कठुआ में मासूम को अगवा कर उसके साथ रेप किया गया था और बेरहमी से हत्या कर दी गई थी. आरोप था कि मासूम को गांव के मंदिर में कथित तौर पर बंधक बनाकर गैंगरेप किया गया था. इस दौरान बच्ची को चार दिन तक बेहोश रखा गया था. इसके बाद मासूम की हत्या कर दी गई थी. 

इस मामले में क्राइम ब्रांच ने कठुआ के ग्राम प्रधान सांझी राम, उसके बेटे विशाल, भतीजे किशोर और उसके दोस्त को गिरफ्तार किया था. क्राइम ब्रांच ने विशेष पुलिस अधिकारी दीपक खजुरिया और सुरेंद्र वर्मा को भी गिरफ्तार किया था

क्राइम ब्रांच ने सांझी राम से कथित तौर पर चार लाख रुपये लेकर महत्वपूर्ण सबूतों को नष्ट करने के आरोप में हेड कांस्टेबल तिलक राज और एसआई आनंद दत्ता को भी गिरफ्तार किया था. इसके बाद जिला एवं सत्र न्यायालय ने इन आठ में से सात लोगों के खिलाफ दुष्कर्म और हत्या के आरोप तय किये थे, जबकि एक आरोपी को नाबालिग बताया गया था.

First published: 10 June 2019, 17:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी