Home » इंडिया » Kejriwal's big allegation bigger scam than Commonwealth in BJP-ruled Municipal Corporation of Delhi
 

केजरीवाल का बड़ा आरोप- BJP शासित दिल्ली नगर निगम में कॉमनवेल्थ से भी बड़ा घोटाला

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 December 2020, 11:01 IST

MCD Scam: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भारतीय जनता पार्टी पर एक बड़ा आरोप लगाया है. दिल्ली के सीएम का आरोप है कि भाजपा शासित दिल्ली नगर निगमों में कॉमनवेल्थ से बड़ा घोटाला हुआ है. शुक्रवार को दिल्ली विधानसभा में सीएम केजरीवाल ने यह बड़ा आरोप लगाते हुए देश की राजनीति में हंगामा मचा दिया है.

सीएम केजरीवाल ने विधानसभा में आरोप लगाया है कि दिल्ली नगर निगमों में ढाई हजार करोड़ रुपये की चपत लगाई गई है. विधानसभा को संबोधित करते हुए अरविंद केजरीवाल ने भारतीय जनता पार्टी पर आरोप लगाया कि वह इमारतों के लिए आवश्यक अनुमति देते समय हर साल नगर निगमों में 5 हजार से 10 हजार करोड़ रुपये का घोटाला करती है.

इसके साथ ही केजरीवाल ने कहा कि यह बेहद दु:खद दिन है, क्योंकि वे दिल्ली नगर निगम में हुए सबसे बड़े घोटाले की बात कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि दिल्ली नगर निगम में 2,500 करोड़ रुपये का घोटाला हुआ है, जो साल 2010 में हुए राष्ट्रमंडल खेल घोटाले से भी काफी बड़ा है. उन्होंने कहा कि सड़कों पर भी लोग दिल्ली नगर निगम में भ्रष्टाचार की बात करते हैं.

इसके आगे केजरीवाल ने कहा कि दूसरी तरफ लोग दिल्ली सरकार के ईमानदार होने की बात भी करते हैं. उन्होंने कहा कि 2,500 करोड़ रुपये का घोटाला जो बीजेपी ने किया है. इसका इस्तेमाल सफाई कर्मचारियों, निगम के अन्य कर्मचारियों तथा डॉक्टरों का वेतन देने के लिए किया जा सकता था. इसके अलावा इस पैसे का इस्तेमाल 12,500 अस्पतालों के बेड अथवा 7500 मोहल्ला क्लीनिक बनाने के लिए भी किया जा सकता था.

केजरीवाल ने विधानसभा में विपक्ष के नेता रामवीर सिंह बिधूड़ी से इस कथित घोटाले की जांच CBI से कराने के लिए केंद्र सरकार पर दबाव बनाने को भी कहा. केजरीवाल ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के दिल्ली नगर निगम में 15 साल के शासन का काला युग अब समाप्त होने वाला है.

कांग्रेस में आज से शुरू हो रही नए अध्यक्ष के चुनने की प्रक्रिया, '99.9% लोग चाहते हैं राहुल गांधी बनें अध्यक्ष'

Coronavirus : 113 दिन तक अस्पताल में भर्ती रहने के बाद घर लौटा शख्स, राज्य के डिप्टी सीएम ने दी जानकारी

First published: 19 December 2020, 10:59 IST
 
अगली कहानी