Home » इंडिया » Kejriwal warns of strict action against Ola, Uber taxis
 

ज्यादा किराया वसूलने पर ओला-उबर पर कार्रवाई करेगी केजरीवाल सरकार

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 April 2016, 16:50 IST

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को ऐप आधारित टैक्सी सेवाओं को कड़ी कार्रवाई की चेतावनी देते हुए कहा है कि यात्रियों से ज्यादा किराया वसूलने पर परमिट रद्द करने के अलावा उनके वाहनों को जब्त भी किया जा सकता है.

दिल्ली में शुक्रवार से केजरीवाल सरकार ने ऑड-ईवन कार्यक्रम का दूसरा चरण शुरू किया है जो 30 अप्रैल तक चलेगा. इस बीच ट्विटर पर कई लोगों ने सीएम केजरीवाल को टैग करते हुए ट्वीट किया कि ऑड-ईवन के चक्कर में ओला और उबर जैसी ऐप आधारित टैक्सी कंपनियां उनसे ज्यादा किराया वसूल रही हैं.

oddeven.jpg

इसके बाद सोमवार को केजरीवाल ने ट्वीट किया, 'सरकार द्वारा निर्धारित किराए से ज्यादा वसूलने पर ऐप आधारित टैक्सी कंपनियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. इसमें परमिट रद्द करने के अलावा उनके वाहनों को भी जब्त किया जाएगा.'

दिल्ली सरकार ने यात्रियों की शिकायत सुनने के लिए हेल्पलाइन नंबर (011-42400400) जारी किया है. दिल्ली के परिवहन मंत्री गोपाल ने राय ने यात्रियों से यहां शिकायत दर्ज करने की अपील की है.

दिल्ली: ऑड-ईवन पर गोपाल राय की गांधीगीरी, विजय गोयल को सौंपा गुलाब

गोपाल राय का कहना है कि ऐप आधारित टैक्सी सेवाओं की मनमानी को रोकने और उनके खिलाफ कड़े कदम उठाने के लिए सरकार गंभीर है. ओला और उबर को नियमों का पालन करना होगा.

साथ ही गोपाल राय ने कहा कि ऐप आधारित टैक्सी सेवाओं की मनमर्जी के खिलाफ अगर सरकार को शिकायत मिली, तो उनके वाहनों को जब्त किया जाएगा. 

गोपाल राय ने बताया कि सोमवार ऑड-ईवन का पहला पूर्ण कामकाजी दिन है, इसलिए आने जाने वालों को कोई दिक्कत होगी तो किसी भी ऐप आधारित संचालक को बख्शा नहीं जाएगा.

ऑटो-टैक्सी यूनियन ने वापस ली हड़ताल

इससे पहले केजरीवाल सरकार को राहत देते हुए ऑटो-टैक्सी यूनियन ने अपनी हड़ताल वापस ले ली थी. संघ के अध्यक्ष राजेंद्र सोनी और परिवहन मंत्री गोपाल राय की बैठक के बाद ये फैसला लिया गया. पहले सोमवार से हड़ताल प्रस्तावित थी.

रविवार को आधा दर्जन ऑटो और टैक्सी यूनियनों के साथ परिवहन मंत्री ने बातचीत की. दिल्ली सरकार ने ऐप आधारित अवैध टैक्सी ऑपरेटर्स के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का भरोसा दिया है. साथ ही ऑटो रिक्शा के एक हजार नए परमिट जारी करने का लिखित आश्वासन भी दिया.

First published: 18 April 2016, 16:50 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी