Home » इंडिया » Kerala: 44 died in Flood, Kochi airport shut, Red alert
 

केरल में जल प्रलय से बंद हुआ कोच्चि एयरपोर्ट, मरने वालों की संख्या बढ़कर हुई 44

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 August 2018, 14:03 IST

केरल में भारी बारिश ने तबाही मचा दी है. इस जल प्रलय में अब तक मरने वालों की संख्या बढ़कर 44 पहुंच गई है. भारी बारिश के चलते केरल के कोच्चि एयरपोर्ट को फ़िलहाल 18 अगस्त तक के लिए बंद कर दिया गया है.

भारी बारिश की वजह से मुन्नार में एक व्यक्ति की मौत हो गई. बताया जा रहा है कि मरने वाला तमिलनाडु का निवासी था. अन्य फंसे हुए 6 लोगों को बचा लिया गया है. बारिश के चलते कोनडोट्टी में देर रात जमीन धंस जाने से मलबे में दब कर एक दंपत्ति की मौत हो गई. इस दंपत्ति के एक 6 साल के बच्चे को मलबे में ढूंढा जा रहा है.

कोच्चि एयरपोर्ट को बंद करने को लेकर हवाई अड्डे के एक प्रवक्ता ने बताया, 'हम बाढ़ का पानी निकालने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं. सभी से सहयोग करने का अनुरोध करते हैं.'

गौरतलब है कि केरल में बाढ़ से कई लोगों से उनका घर भी छिन गया. केरल में बाढ़ के कहर से कई जिलों में तबाही मच गई. करीब 20 हजार मकान बाढ़ के पानी में बह गए, वहीं 10 हजार किलोमीटर लम्बी सड़क धंस गई. जिससे कि यातायाटी पूरी तरह से ठप्प हो गया.

 

केरल में बाढ़ के कहर से अब तक 8316 करोड़ के नुकसान का अंदाज लगाया जा रहा है. बाढ़ से बुरी तरह से ध्वस्त हुए केरल में राहत कार्यों और पुनर्वास के लिए केरल के मुख़्यमंगतरी पिनाराई विजयन ने केंद्र सरकार से मदद की गुहार लगाई है.

Video: बाढ़ में ढहने वाला था पुल, बच्चे के लिए फरिश्ता बनकर पहुंचा ये शख्स

सीएम ने तत्कालिक राहत और पुनर्वास के लिए 820 करोड़ के अलावा 400 करोड़ रुपये की सहायता राशि की मांग की है. इसी के साथ उन्होंने केंद्र सरकार से अपील की है कि केडेरा सरकार नुक्सान का जायज़ा लेने के लिए टीम दोबारा भेजे. शुरुआती आकलन के मुताबिक करीब 20 हजार मकान और राज्य की करीब 10 हजार किमी लंबी सड़कें पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो चुकी हैं. 8316 करोड़ के नुकसान का अंदाज लगाया जा रहा है.

First published: 15 August 2018, 14:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी