Home » इंडिया » Kerala: flood destroyed 20 thousand houses 10 thousand km road damaged, CM calls help from Modi government
 

केरल: बाढ़ ने तबाह किए 20 हजार मकान, 3 दर्जन से ज्यादा लोग मौत के मुंह में समाए

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 August 2018, 9:15 IST
(File photo)

केरल में बाढ़ के कहर से कई जिलों में तबाही मच गई. करीब 20 हजार मकान बाढ़ के पानी में बह गए, वहीं 10 हजार किलोमीटर लम्बी सड़क धंस गई. जिससे कि यातायाटी पूरी तरह से ठप्प हो गया. केरल में बाढ़ के कहर से अब तक 8316 करोड़ के नुकसान का अंदाज लगाया जा रहा है. बा ढ़ से बुरी तरह से ध्वस्त हुए केरल में राहत कार्यों और पुनर्वास के लिए केरल के मुख़्यमंगतरी पिनाराई विजयन ने केंद्र सरकार से मदद की गुहार लगाई है.

सीएम ने तत्कालिक राहत और पुनर्वास के लिए 820 करोड़ के अलावा 400 करोड़ रुपये की सहायता राशि की मांग की है. इसी के साथ उन्होंने केंद्र सरकार से अपील की है कि केडेरा सरकार नुक्सान का जायज़ा लेने के लिए टीम दोबारा भेजे.

सीएम ने केन्द्र से चार हफ्तों के अंदर स्पेशल पैकेज दिए जाने की भी मांग की है. इसके लिए राज्य सरकार विस्तृत प्रस्ताव प्रस्तुत करेगी. शुरुआती आकलन के मुताबिक करीब 20 हजार मकान और राज्य की करीब 10 हजार किमी लंबी सड़कें पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो चुकी हैं. 8316 करोड़ के नुकसान का अंदाज लगाया जा रहा है.

ये भी पढ़ें- केरल: भारी बारिश से 50 साल के इतिहास की सबसे बड़ी तबाही, 54 हजार लोगों को छोड़ना पड़ा घर

केरल में पिछले 50 साल के इतिहास में सबसे बड़ी तबाही मचाई है. हालात इतने खराब हो चुके हैं कि केरल के अलग-अलग हिस्सों में 24 से ज्यादा बांधों को खोलना पड़ा. यहां तक कि 54 हजार लोगों को अपना घर छोड़ना पड़ा.

इडुक्की जिले में तबाही सबसे ज्यादा है. जहां पिछले 40 सालों में पहली बार चेरुथोनी बांध के पांचों शटर खोलने पड़े. हालात इस कदर पानी-पानी हो चुके हैं कि केरल के इतिहास में पहली बार 24 बांधों को एक साथ खोलना पड़ा.

ये भी पढ़ें- Video: बाढ़ में ढहने वाला था पुल, बच्चे के लिए फरिश्ता बनकर पहुंचा ये शख्स

 

First published: 13 August 2018, 9:15 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी