Home » इंडिया » kerala governor p sathasivam skips remarks critic of centre in policy address, kerala budget session starts
 

केरल के राज्यपाल को मोदी सरकार की आलोचना से ऐतराज, भाषण में नहीं पढ़ी ये लाइनें

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 January 2018, 10:14 IST

केरल के राज्यपाल पी सदाशिवम ने सोमवार को राज्य विधानसभा में अपने बजट पूर्व दिए भाषण में कहा कि वर्ष 2017 में केरल की धर्मनिरपेक्ष परंपराओं पर कई हमले हुए हैं. लेकिन उन्होंने एलडीएफ सरकार की नीतियों पर अपने अभिभाषण में उस हिस्से को नहीं पढ़ा जिसमें केंद्र के मोदी सरकार की अलोचना की गई थी. 

राज्यपाल ने केरल में दंगे भड़काने में कुछ सांप्रदायिक संगठनों की साजिश के संदर्भ में अंकित बातों को भी छोड़ दिया.

राज्यपाल के 89 मिनट के भाषण के बाद इसकी प्रतियां वितरित की गईं, जिससे पता चला कि उन्होंने अपने भाषण में से उन तीन पंक्तियों को छोड़ दिया था, जिसमें मोदी सरकार की आलोचना वाली टिप्पणी थी. हालांकि अपने भाषण में उन्होंने प्रदेश की पिनरई विजयन सरकार की प्रशंसा की.

राज्यपाल ने प्रदेश सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि कुछ सांप्रदायिक ताकतों की ओर से कोशिश के बावजूद राज्य में सांप्रदायिक दंगे नहीं हुए. गौरतलब है कि वित्तमंत्री थॉमस इसाक 2 फरवरी को नए वित्तीय वर्ष के लिए बजट पेश करेंगे.

यह थी लाइन

लिखित अभिभाषण की प्रति के अनुसार, ''केरल को एक बार फिर कानून व्यवस्था बनाये रखने में देश में अव्वल चुना गया है और वह जीवन की गुणवत्ता की रैंक में देश में पहले स्थान पर हैं. कुछ सांप्रदायिक ताकतों की साजिश के बावजूद हमारे राज्य में सांप्रदायिक दंगे की कोई घटना नहीं घटी.

इस बारे में जब मुख्यमंत्री कार्यालय से संपर्क किया तो मुख्यमंत्री कार्यालय ने इस मुद्दे पर कोई भी टिप्पणी करने से मना कर दिया गया. आधिकारिक सूत्रों ने कहा, ''हम राज्यपाल के नीति अभिभाषण पर सामान्य रूप से कोई टिप्पणी नहीं करते."

सदाशिवम ने अपने भाषण में कानून व्यवस्था की स्थिति पर कुछ सांप्रदायिक संगठनों के सोशल मीडिया और परंपरागत मीडिया, दोनों पर पिछले साल चलाये गये अभियानों का जिक्र किया. उन्होंने कहा, ''देश में कानून व्यवस्था पर कुछ सर्वश्रेष्ठ आंकड़ों वाला राज्य होने के बावजूद भारत भर में कुछ सांप्रदायिक संगठनों ने कुछ कमजोर आधारों पर महीने भर तक अभियान चलाया.

First published: 23 January 2018, 10:14 IST
 
अगली कहानी