Home » इंडिया » Kerala: Indian Navy transports 15-year-old's heart to save 27-year-old woman via Air Ambulance
 

नौसेना ने दिया महिला को जीवनदान, एयर एंबुलेंस से पहुंचाया ब्रेन डेड लड़के का दिल

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:47 IST
(एएनआई)

सड़क दुर्घटना के बाद ब्रेन डेड घोषित किए गए एक किशोर ने दिल की दुर्लभ बीमारी से ग्रस्त 27 साल की एक महिला को जीवनदान दिया है. लड़के का दिल मंगलवार को नौसेना के एक एयर एंबुलेंस से तिरुवनंतपुरम से करीब 200 किलोमीटर दूर कोच्चि लाया गया, जहां महिला के शरीर में उसे सफलतापूर्वक प्रत्यारोपित किया गया.

कोच्चि के निजी अस्पताल के डॉक्टरों की एक टीम ने त्रिसूर की रहने वाली संध्या के शरीर में दिल का प्रत्यारोपण किया. अस्पताल के एक प्रवक्ता ने पांच घंटे चले ऑपरेशन के बाद कहा, "ऑपरेशन सफल रहा."

बीती 16 जुलाई को एक सड़क हादसे में तिरुवनंतपुरम के मुक्कोला के रहने वाले 15 साल के विशाल के सिर में गंभीर चोट लग गई थी. वह अपने स्कूल जा रहा था, जब तेज रफ्तार से आ रही एक कार ने उसे टक्कर मार दी. उसे तिरुवनंतपुरम के सरकारी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया, जहां उसे मंगलवार शाम ब्रेन डेड घोषित कर दिया गया.

उसके बाद जब केरल सरकार के अंग प्रत्यारोपण नेटवर्क मृतसंजीवनी ने विशाल के परिवार से संपर्क किया, तो वे विशाल के दिल, लीवर और किडनी जैसे अंगों के दान के लिए तैयार हो गए. 

विशाल के दिल को एयर एंबुलेंस से कोच्चि लाया गया, जबकि उसकी किडनी को तिरुवनंतपुरम मेडिकल कॉलेज के दो मरीजों को दान कर दिया गया. केरल के मुख्यमंत्री पी विजयन ने दान किए अंगों को सही समय पर पहुंचाने के लिए नेवल एयर एंबुलेंस की व्यवस्था की. 

First published: 20 July 2016, 1:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी