Home » इंडिया » Kerala Love Jihad case: Bring Hadiya in supreme court
 

सुप्रीम कोर्ट ने कहा, 'इस्लाम कुबूल करने वाली हिंदू लड़की हादिया को पेश किया जाए

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 October 2017, 16:28 IST

केरल में हिंदू धर्म छोड़कर इस्लाम अपनाने और एक मुस्लिम युवक से शादी करने का विवाद गरमाता जा रहा है. अब सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में सुनवाई करते हुए कहा है कि 27 नवंबर को उसे न्यायालय के सामने पेश किया जाए. न्यायालय ने मुस्लिम युवक शफीन जहां से शादी करने पर उसके विचार जानने के लिए यह आदेश दिया है.

न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा की पीठ ने यह भी कहा कि न्यायालय चाहेगा कि वह अपने विचार खुली अदालत में रखे, क्योंकि यह स्वीकार नहीं किया जा सकता कि न्यायाधीश उससे बंद कमरे में सवाल पूछें. हादिया उर्फ अखिला ने पिछले वर्ष इस्लाम धर्म कबूल कर लिया था और शफीन जहां नामक मुस्लिम युवक से शादी कर ली थी लेकिन बाद में इस शादी ने लव जिहाद के रुप में नया मोड़ ले लिया लिया था.

सर्वोच्च न्यायालय सोमवार को जहां की याचिका पर सुनवाई कर रहा था. जहां ने हादिया के साथ उसकी शादी को निरस्त करने के मई में केरल उच्च न्यायालय के फैसले के विरोध में सर्वोच्च न्यायालय में याचिका दाखिल की है. उसके पिता ने बंद कमरे में सुनवाई करने की अपील की थी, लेकिन न्यायालय ने इसे ठुकरा दिया.

हादिया के पिता की याचिका पर उच्च न्यायालय ने उसकी शादी निरस्त कर दी थी. हादिया के पिता ने जहां पर आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट(आईएस) के साथ संबंध होने का भी आरोप लगाया था. जहां ने इससे पहले सर्वोच्च न्यायालय से इस मामले की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) से कराने के फैसले को निरस्त करने की मांग की थी. सर्वोच्च न्यायालय ने ही इस मामले की जांच एनआईए से कराने का आदेश दिया था.

First published: 30 October 2017, 16:28 IST
 
अगली कहानी