Home » इंडिया » kerla assembly speaker bought 50 thousands rupees glasses government gives bill, kerla government, assembly speaker, p sreeramkrishnan,polit
 

विधानसभा अध्यक्ष के खरीदा 50,000 रुपये का चश्मा, सरकारी खजाने से किया भुगतान

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 February 2018, 12:23 IST

अगले साल होने वाले लोकसभा चुनावों से पहले सियासी पारा चढ़ना शुरु हो गया है. चुनाव जीतने के लिए राजनैतिक पार्टियां अपने-अपने दांव पेंच चला रही हैं. वहीं केरल में एक बार फिर से चश्मे के लिए सरकारी खजाने का इस्तेमाल करने का मामला सामने आया है. ये चश्मा केरल विधानसभा अध्यक्ष के लिए खरीदा गया और इसका भुगतान भी सरकारी खजाने से किया गया.

क्या है पूरा मामला

दरअसल, केरल विधानसभा के अध्यक्ष पी श्रीरामकृष्णन ने करीब 50,000 रुपये का एक चश्मा खरीदा. जिसके लिए राज्य सरकार के खजाने से भुगतान किया गया है. इस बात का खुलासा तब हुआ जब कोच्चि के वकील डीबी बीनू की आईटीआई का जवाब राज्य विधानसभा सचिवाल ने दिया

ये भी पढ़ें- इस वित्त वर्ष में लागू नहीं हो पायेगी 'मोदी केयर' स्कीम', खर्च पर भी हैं ये सवाल

सचिवालय ने उपलब्ध कराई जानकारी

सचिवाल की ओर से दिए गए आरटीआई के जवाब में बताया गया कि विधानसभा अध्यक्ष पी श्रीरामकृष्णन के चश्मे के लिए 49,900 रुपये का भुगतान किया गया. जिसमें 4,900 रुपये चश्मे के फ्रेम पर और 45,000 रुपये लेंस पर खर्च किए गए. आरटीआई के जवाब में पता चला कि राज्य विधानसभा सचिवाल ने अध्यक्ष को 5अक्टूबर 2016 से 19 जनवरी 2018 के बीच 4.25 लाख रुपये की राशि दी गई.

नकदी संकट से जूझ रहा है केरल

बतादें कि केरल पहले से ही नकदी के संकट से जूझ रहा है. ऐसे में विधानसभा अध्यक्ष के चश्मे के लिए 49,900 रुपये का भुगतान करना राज्य के नागरिकों के हकों से खिलवाड़ करने जैसा है.

विधानसभा अध्यक्ष ने दी सफाई

वहीं विवाद बढ़ता देख विधानसभा अध्यक्ष ने मामले पर सफाई देते हुए कहा कि चिकित्सकों की सलाह पर चश्मा खरीदा है. वहीं आरटीआई कार्यकर्ता बीनू के मुताबिक उन्होंने श्रीरामकृष्णन द्वारा दिए गए बिलों की प्रति भी मांगी थी. जो उन्हें नहीं दी गई. उन्होंने कहा कि वह विधानसभा सचिवालय द्वारा अधूरी जानकारी दिए जाने के खिलाफ राज्य सूचना आयोग का रुख करेंगे.

पहले भी सरकारी खजाने से किया जा चुका है भुगतान

बतादें कि इससे पहले, स्वास्थ मंत्री केके शैलजा के 28,000 रुपये का चश्मा खरीदने पर विवाद पैदा हो गया था.

First published: 4 February 2018, 12:23 IST
 
अगली कहानी