Home » इंडिया » Kumar Vishwas: Accept that Doordarshan All challan invite me
 

छलका कुमार विश्वास का दर्द: सारे चैनल मुझे बुलाते हैं, केवल दूरदर्शन नहीं बुलाता

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 November 2016, 15:45 IST
(एजेंसी)

आम आदमी पार्टी (आप) के नेता और मशहूर कवि कुमार विश्वास का दर्द उस समय झलक आया, जब उन्होंने कहा कि राजनीतिक विचार नहीं मिलने के कारण उन्हें सरकारी कार्यक्रमों में नहीं बुलाया जाता है.

कुमार विश्वास के मुताबिक वो फेसबुक और ट्विटर समेत सोशल मीडिया पर सर्वाधिक फॉलो किए जाने वाले हिंदी के कवि हैं. हिंदी को लोकप्रिय बनाने में उनका अहम योगदान है.

इसके बावजूद मोदी सरकार के कार्यक्रमों में उन्हें नहीं बुलाया जाता है और न ही किसी सरकारी संस्थान का सम्मान उन्हें मिला है.

विश्वास ने कहा, ‘‘वह पहले कवि हैं और उनकी पहली प्राथमिकता कविता रही है, लेकिन जब कांग्रेस सरकार के समय जरूरत पड़ी तो उन्होंने देश के लिए आंदोलन भी किया.’’

कुमार विश्वास ने मोदी सरकार पर परोक्ष हमला करते हुए कहा, ‘‘मैं देश और दुनिया में तमाम कार्यक्रमों में जाता हूं. कई आयोजक ऐसे भी हैं, जो मेरा कार्यक्रम कराना चाहते हैं लेकिन सरकारी अवरोधों के चलते मुझे बुलाने से बचते हैं. सारे निजी चैनलों पर मुझे आमंत्रित जाता है और मेरे कार्यक्रम होते हैं लेकिन मुझे दूरदर्शन पर नहीं बुलाया जाता.’’

अपनी वर्तमान परियोजनाओं से जुड़े सवाल पर उन्होंने बताया कि वह छोटे पर्दे पर ‘महाकवि’ के नाम से एक शो लेकर आये हैं जिसका प्रसारण शुरू हो चुका है.

इसके अलावा मंचीय कवि कुमार विश्वास ने दावा किया कि यह छोटे पर्दे पर साहित्य का सबसे बड़ा कार्यक्रम होगा, जिसमें सुमित्रानंदन पंत, रामधारी सिंह दिनकर, दुष्यंत कुमार, सच्चिदानंद हीरानंद वात्स्यायन अज्ञेय और हरिवंश राय बच्चन समेत 10 बड़े कवियों की जीवनी के साथ उनकी कविताओं पर बात होगी.

इसके साथ ही उन्होंने यह भी माना कि उनके इस शो में विवाद भी खड़ा हो सकता है, क्योंकि वह हिंदी के प्रसिद्ध कवि बाबा नागार्जुन की कविताओं में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के लिए की गईं चुटीली टिप्पणियों की बात करेंगे.

इसके अलावा कवि दिनकर के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू को आड़े हाथ लेने और तत्कालीन सरकार को ‘सिंहासन खाली करो कि जनता आती है’ जैसी रचना से ललकारने के पहलू भी दर्शकों के सामने रखेंगे.

First published: 6 November 2016, 15:45 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी