Home » इंडिया » Labour minister Santosh Gangwar says Govt has not set any target for job creation
 

मोदी सरकार के श्रम मंत्री बोले- सरकार के पास बेरोजगारों के लिए कोई सेट टार्गेट नहीं

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 March 2018, 11:00 IST

केंद्र सरकार में श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने सोमवार को लोकसभा में जानकारी देते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने युवाओं को नौकरी देने का कोई लक्ष्य नहीं तय किया है. संतोष गंगवार ने एक सवाल के लिखित जवाब में यह बात कही.

दरअसल इंडियन नेशनल लोकदल के सांसद दुष्यंत चौटाला ने लोकसभा में सरकार से सवाल पूछा था कि सरकार ने पिछले तीन साल में रोजगार सृजन के लिए क्या लक्ष्य तय किए हैं? चौटाला ने इंटरनेशनल लेबर आर्गेनाइजेशन की रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि भारत में बेरोजगारी 2017 में 18.3 के मुकाबले बढ़कर 18.6 हो गई वहीं 2019 में यह बढ़कर 18.9 हो जाएगी. चौटाला ने इस पर आंकड़े मांगने के अलावा इस दिशा में किए जा रहे प्रयासों की जानकारी मांगी.

 

इसके जवाब में मंत्री गंगवार ने कहा- सरकार ने कोई टारगेट तय नहीं किया है. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि सरकार की पहली प्राथमिक रोजगार पैदा करना है. उन्होंने कहा कि सरकार इसको लेकर गंभीर भी है.

 

श्रम मंत्री ने अपने जवाब में बताया कि सरकार ने प्राइवेट सेक्टर को प्रोत्साहन देकर नौकरियों के सृजन के लिए कमद उठाए हैं. उन्होंने बताया कि सरकार ने प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, महात्मा गांधी ने राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना और पंडित दीनदयालय उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना में पर्याप्त निवेश कर रोजगार को बढ़ावा देने का काम किया है.

पढ़ें- मुंबई: सरकारी नौकरी के लिए छात्रों का हल्ला बोल, रेल पटरियों पर शुरू किया आंदोलन

जहां एक तरफ देश में युवा रोजगार के लिए आंदोलन कर रहे हैं. वहींं दूसरी तरफ मोदी सरकार के पास युवाओं को नौकरी देने का कोई सेट टार्गेट न होना युवाओं को निराश करने वाला है.

First published: 20 March 2018, 11:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी