Home » इंडिया » LAC controversy: No power in the world can stop Indian Army from patrolling- Defense Minister in Rajya Sabha
 

दुनिया की कोई ताकत भारतीय सेना को सीमा पर पेट्रोलिंग करने से नहीं रोक सकती- रक्षा मंत्री

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 September 2020, 15:22 IST

Monsoon session 2020 : राज्यसभा में आज केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लद्दाख में भारत-चीन सीमा विवाद पर अपना बयान दिया. राजनाथ सिंह ने कहा कि सदन इस बात से अवगत है कि भारत और चीन सीमा का प्रश्न अभी तक अनसुलझा है. भारत और चीन की बाउंड्री का कस्टमरी और ट्रेडिशनल अलाइनमेंट चीन नहीं मानता है. यह सीमा रेखा अच्छे से स्थापित भौगोलिक सिद्धांतों पर आधारित है. रक्षा मंत्री ने कहा दुनिया की कोई भी ताकत भारतीय सेना को उन क्षेत्रों में गश्त करने से नहीं रोक सकती, जहां उन्होंने परंपरागत रूप से ऐसा किया है. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को राज्यसभा में कहा कि चीन ने सीमा पर सैनिकों को एकत्र किया है जिसके लिए सेना ने उचित जवाबी तैनाती की है.

उन्होंने कहा ''चीन मानता है कि बाउंड्री अभी भी औपचारिक तरीके से निर्धारित नहीं है. उसका मानना है कि हिस्टोरिक्ल जुरिस्डिक्शन के आधार पर जो ट्रेडिश्नल कस्टमरी लाइन है उसके बारे में दोनों देशों की अलग व्याख्या है. 1950-60 के दशक में इस पर बातचीत हो रही थी पर कोई समाधान नहीं निकला. रक्षा मंत्री ने सदन में अपनी बात रखते हुए कहा ''सदन को जानकारी है कि पिछले कई दशकों में चीन ने बड़े पैमाने पर इन्फ्रास्ट्रक्चर एक्टिविटी शुरू की है, जिससे बॉर्डर एरिया में उनकी तैनाती की क्षमता बढ़ी है. इसके जबाव में हमारी सरकार ने भी बॉर्डर इन्फ्रास्ट्रक्चर विकास का बजट बढ़ाया है, जो पहले से लगभग दोगुना हुआ है.


उन्होंने कहा ''यह सच है कि हम लद्दाख में एक चुनौती के दौर से गुजर रहे हैं लेकिन साथ ही मुझे भरोसा है कि हमारा देश और हमारे वीर जवान इस चुनौती पर खरे उतरेंगे. मैं इस सदन से अनुरोध करता हूँ कि हम एक ध्वनि से अपनी सेनाओं की बहादुरी और उनके अदम्य साहस के प्रति सम्मान प्रदर्शित करें''.

रक्षा मंत्री ने कहा इस सदन से दिया गया, एकता व पूर्ण विश्वास का संदेश, पूरे देश और पूरे विश्व में गूंजेगा, और हमारे जवान, जो कि चीनी सेनाओं से आंख से आंख मिलाकर अडिग खड़े हैं, उनमें एक नए मनोबल, ऊर्जा व उत्साह का संचार होगा.

GST पर राज्यों का विरोध 

इस बीच राज्यों को GST भुगतान किए जाने की मांग को लेकर TRS, TMC, DMK, RJD, AAP, NCP, समाजवादी पार्टी और शिवसेना के सांसदों ने संसद परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने विरोध प्रदर्शन किया. राज्य सभा में आज केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्ष वर्धन ने कहा ''जुलाई-अगस्त में भारत में 300 मिलियन कोरोना मामले और 5-6 मिलियन मौतों की बात कही गई थी. 135 करोड़ के इस देश में हम 11लाख टेस्ट कर रहे हैं. हमसे ज्यादा कुल 5करोड़ टेस्ट अभी तक अमेरिका ने किए हैं. हम जल्द ही अमेरिका को टेस्टिंग में पीछे छोड़ देंगे''.

उन्होंने कहा ''पीएम मोदी के नेतृत्व में पूरा देश मिलकर कोरोना की लड़ाई को लड़ रहा है. पिछले 8 महीनों से जिस तरह से पीएम मोदी ने कोरोना से संबंधित छोटी से छोटी चीजों को बड़ी गहराई से मॉनिटर किया, लोगों को गाइड किया,उन्होंने सबकी सलाह ली. इसके लिए उन्हें इतिहास में याद किया जाएगा''.

Monsoon Session: शिवसेना के संजय राउत ने राज्यसभा में उठाया जवाहरलाल नेहरू पोर्ट ट्रस्ट

First published: 17 September 2020, 15:22 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी