Home » इंडिया » LadakhStandof: Chinese defense minister requested meeting with Rajnath Singh in Moscow
 

Ladakh Standoff: मॉस्को में चीनी रक्षा मंत्री ने राजनाथ सिंह से किया मीटिंग करने का अनुरोध

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 September 2020, 7:57 IST

LadakhStandoff : भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में तनाव के बीच चीनी रक्षा मंत्री वेई फेंगी ने भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से बैठक का अनुरोध किया. दोनों देशों के रक्षा मंत्री इस वक्त शंघाई सहयोग संगठन की बैठक के लिए मॉस्को में मौजूद हैं. सूत्रों ने कहा कि मॉस्को में भारतीय और चीनी दूतावास शुक्रवार की बैठक को निर्धारित करने के लिए संपर्क में हैं. भारतीय और चीनी सैनकों के बीच पूर्वी लद्दाख में लगभग चार महीने से तनावपूर्ण स्थिति बनी हुई है. राजनाथ सिंह और वी वर्तमान में शुक्रवार को एससीओ रक्षा मंत्रियों की बैठक में भाग लेने के लिए मास्को में हैं.

जानकारी के अनुसार चीनी पक्ष ने भारतीय मिशन को दोनों रक्षा मंत्रियों के बीच एक बैठक के लिए उत्सुकता से अवगत कराया है. हालांकि, इसके बारे में कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है.पूर्वी लद्दाख में तनाव तब भड़क गया था जब चीन ने चार दिन पहले पैंगोंग झील के दक्षिणी किनारे पर भारतीय क्षेत्र पर कब्जा करने का असफल प्रयास किया. हालांकि दोनों पक्ष विवाद को सुलझाने के लिए कूटनीतिक और सैन्य वार्ता में लगे हुए हैं.


भारत ने पैंगोंग झील के दक्षिणी किनारे पर कई ऊंचाइयों पर कब्जा कर लिया और किसी भी चीनी कार्रवाई को विफल करने के लिए क्षेत्र में फिंगर 2 और फिंगर 3 क्षेत्रों में अपनी उपस्थिति को मजबूत किया है. भारत के इस कदम पर चीन ने कड़ी आपत्ति जताई है. चीनी प्रयासों के बाद भारत ने कई संवेदनशील क्षेत्र में हथियारों को पहुंचा दिया है. भारत ने गुरुवार को कहा कि पिछले चार महीनों में लद्दाख में सीमा तनाव, क्षेत्र की यथास्थिति को बदलने के उद्देश्य से चीनी कार्रवाइयों का प्रत्यक्ष परिणाम है. कहा कि इसे सुलझाने के लिए एकमात्र रास्ता बातचीत का रास्ता है.

LAC पर विवाद के बीच चुशुल में भारत और चीन के बीच बुधवार को ब्रिगेडियर-स्तरीय वार्ता का तीसरा दिन अनिर्णायक रहा. इस वार्ता में पैंगोंग त्सो के दक्षिणी तट की स्थिति पर बातचीत की जा रही थी. रक्षा सूत्र ने कहा "पैंगोंग तनाव पर चल रही वार्ता बुधवार को अनिर्णायक रही और गुरुवार को भी जारी थी." यह वार्ता महत्वपूर्ण है क्योंकि चुशुल सेक्टर में अभी भी तनाव बढ़ रहा है, दोनों पक्षों की बड़ी संख्या में सेनाएं विवादित सीमा के साथ एक-दूसरे के बहुत करीब हैं.

Video: रूस में राजनाथ सिंह ने अधिकारी को सिखाया भारतीय संस्कृति का पाठ, हाथ आगे बढ़ाया तो किया नमस्ते

First published: 4 September 2020, 7:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी