Home » इंडिया » Lalu Prasad Yadav sentenced 3 and half year jail in fodder scam by cbi court in ranchi, lalu can not get bail
 

चारा घोटाला: लालू को मिली साढ़े तीन साल की सजा, 10 लाख रुपये जुर्माना

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 January 2018, 21:00 IST

राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख और बिहार के पूर्व सीएम के लिए शनिवार का दिन बुरी खबर लेकर आया. लालू यादव को चारा घोटाले के एक और मामले में सजा सुना दी गई है. रांची में सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने लालू यादव को साढ़े तीन साल की सजा सुनाई है. लालू को साढे़ तीन साल की सजा के साथ 5 लाख का जुर्माना भी देना होगा.

जुर्माना ना देने पर लालू की सजा छह महीने और बढ़ेगी. लालू को पहले 3 जनवरी को सजा सुनाई जानी थी. इससे पहले राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख लालू प्रसाद के वकील ने शुक्रवार को सुनवाई के दौरान सीबीआई की विशेष अदालत से उनको दी जाने वाली सजा पर नरमी बरतने को कहा था. 

 सीबीआई के जज ने लालू प्रसाद सहित 16 दोषियों को को सीबीआई के जज शिवपाल सिंह जज ने सजा सुनाई. गौरतलब है कि रांची की सीबीआई कोर्ट ने पिछले साल 23 दिसंबर को लालू को चारा घोटाले के एक और मामले में दोषी करार दिया था. 23 दिंसबर को सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने इस मामले में 6 लोगों को बरी कर दिया था. इनमें बिहार के पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्र भी शामिल थे. 

चारा घोटाले के इस मामले में दोषी करार

साल 1990 से 1994 के बीच देवघर कोषागार से 89 लाख, 27 हजार रुपये का फर्जीवाड़ा करके अवैध ढंग से पशु चारे के नाम पर निकासी के मामले में लालू समेत 22 लोग आरोपी हैं. सीबीआई ने 27 अक्तूबर, 1997 को इन सबके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था. 21 साल बाद इस मामले में शनिवार को फैसला आ रहा है. बिहार में हुए चारा घोटाले के वक्त लालू प्रसाद यादव बिहार के मुख्यमंत्री थे.

चारा घोटाले के इस मामले में दोषी करार

साल 1990 से 1994 के बीच देवघर कोषागार से 89 लाख, 27 हजार रुपये का फर्जीवाड़ा करके अवैध ढंग से पशु चारे के नाम पर निकासी के मामले में लालू समेत 22 लोग आरोपी हैं. सीबीआई ने 27 अक्तूबर, 1997 को इन सबके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था. 21 साल बाद इस मामले में शनिवार को फैसला आ रहा है. बिहार में हुए चारा घोटाले के वक्त लालू प्रसाद यादव बिहार के मुख्यमंत्री थे.

हम आपको बता दें कि लालू यादव को को चारा घोटाले के एक मामले में सज़ा हो चुकी है. लालू प्रसाद यादव को साल 2012 में 900 करोड़ रुपये के चारा घोटाले में चाईबासा कोषागार से 37 करोड़, 70 लाख रुपये की अवैध ढंग से निकासी करने के मामले मे 5 साल की सजा हो चुकी है. इस समय उन्हें सुप्रीम कोर्ट से इस मामले में जमानत मिली है.

First published: 6 January 2018, 16:46 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी