Home » इंडिया » Lalu responds on twitter against the income tax raids, attacks on BJP, RSS and Media
 

IT छापे पर लालू हुए लाल, दनादन छह ट्वीट से पलटवार

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 May 2017, 15:37 IST

मंगलवार की सुबह राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के ठिकानों पर आयकर विभाग की छापेमारी के बाद से हंगामा बरपा हुआ है. आयकर विभाग ने यह छापेमारी सुबह 8:30 बजे से उनकी कथित बेनामी संपत्ति के मामले में की है. मगर अब लालू ने इस कार्रवाई के ख़िलाफ़ भाजपा पर ताबड़तोड़ हमला बोला है. उनके एक ट्वीट से तो बिहार में सत्तासीन महागठबंधन पर भी संकट के बादल मंडराने लगे हैं.

तक़रीबन 2 बजे उन्होंने ट्विटर पर पहला ट्वीट करते हुए लिखा, "BJP को नए Alliance partners मुबारक हों. लालू प्रसाद झुकने और डरने वाला नहीं है. जब तक आख़िरी सांस है फासीवादी ताक़तों के ख़िलाफ़ लड़ता रहूंगा."

 

लालू यादव के इस ट्वीट से सियासी अटकलें तेज़ हो गई हैं. वजह बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का ठीक एक दिन पहले मीडिया को दिया गया उनका बयान है. नीतीश ने सोमवार को मीडिया से कहा था, "अगर किसी के पास सबूत हैं, तो उन्हें जांच कराने के लिए एजेंसी से कहना चाहिए." इस बयान की अगली सुबह यानी मंगलवार को जांच एजेंसियों ने लालू यादव के कई ठिकानों पर छापेमारी कर दी.

बहरहाल, लालू ने सिर्फ इशारे-इशारे में ही ट्वीट नहीं किया. अपने अगले ट्वीट में लालू शेर की तरह बीजेपी पर दहाड़े. उन्होंने लिखा, 'BJP में हिम्मत नहीं कि लालू की आवाज को दबा सके. लालू की आवाज दबाएंगे तो देशभर में करोड़ों लालू खड़े हो जाएंगे. मैं गीदड़ भभकी से डरने वाला नही हूं.'

 

लालू यादव ने मीडिया को भी नहीं बख़्शा. उन्होंने अपने तीसरे ट्वीट में मीडिया पर निशाना साधते हुए लिखा, 'अरे पढ़े-लिखे अनपढों,ये तो बताओ कौन से 22 ठिकानों पर छापेमारी हुई. BJP समर्थित मीडिया और उसके सहयोगी घटकों (सरकारी तोतों) से लालू नही डरता.'

 

लालू ने इस तरह के कुल छह ट्वीट किए. उन्होंने अपने चौथे और पांचवें ट्वीट में उन्होंने लिखा, "ज़्यादा लार मत टपकाओ. गठबंधन अटूट है. अभी तो समान विचारधारा के और दलों को साथ जोड़ना है. मैं BJP के सरकारी तंत्र और सरकारी सहयोगियों से नहीं डरता. RSS-BJP को लालू के नाम से कंपकंपी छूटती है. इनको पता है कि लालू इनके झूठ, लूट और जुमलों के कारोबार को ध्वस्त कर रहा है तो दबाव बनाओ."

छठे ट्वीट में लालू ने कहा, "पूंजीपतियों के सरगनाओं सुनो, ग़रीबों का समर्थन व शुभ आशीर्वाद मेरे साथ है. लालू न हारा है, न थका है. अपराजेय योद्धा की तरह सदा लड़ा और जीता हूं."

First published: 16 May 2017, 15:25 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी