Home » इंडिया » Lalu yadav rjd limited on zero seats in loksabha elections 2019 for the first time
 

बिहार में लालू युग का हुआ अंत, लालू गए जेल, मोदी गए खेल !

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 May 2019, 9:10 IST

बिहार में मोदी की लहर इस तरह चली की वहां की महागठबंधन धूल हो गई. बिहार में एनडीए को 40 में से 39 सीटें मिली, जो इससे पहले नहीं हुआ था. बिहार में 6 पार्टियों की गठबंधन आरजेडी, कांग्रेस, रालोसपा, हम, वीआईपी और सीपीआईएम को सिर्फ एक सीट से संतोष करना पड़ा.

इस गठबंधन को सिर्फ किशनगंज की सीट ही हासिल हुई. RJD की स्थापना सन् 1997 में हुई थी, जिसके बाद से अबतक पहली बार ऐसा हुआ है जब आरजेडी अपना खाता तक नहीं खोल पाए. लालू प्रसाद यादव की पार्टी इस बार लोकसभा चुनाव में अपना खाता तक भी नहीं खोल सकी.

ये असर लालू के जेल जाने से हुआ या फिर किसी और कारण से ये कहना मुश्किल है. लेकिन नतीजे देखकर लगता है कि बिहार में मोदी का मैजिक और नितिश की मेहनत रंग लाई. इसी वजह से यहां एनडीए की झोली में 40 में से 39 सीटें आ गिरीं.

लालू के महागठबंधन में से सिर्फ कांग्रेस को किशनगंज की एक सीट मिली. पूरे राज्य में इस तरह का रिजल्ट सिर्फ आपातकाल के विरोधी लहर में सन् 1984 में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या के बाद देखने को मिला था. यहां एनडीए के जिन-जिन सांसदों ने चुनाव लड़े उन्हें 2014 के मुकाबले कई गुना ज्यादा वोट मिले और जीत हासिल की.

एनडीए में दिखी एकजुटता

मोदी लहर बिहार में इसलिए भी चली क्योंकि यहां एनडीए में एकजुटता देखने को मिली. बिहार में कुल 171 जनसभाएं सीएम नीतीश कुमार ने की थी, जिसमें प्रधानमंत्री मोदी के साथ 8, उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी के साथ 23 और केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान के साथ 22 सभाएं भी शामिल हैं. जीत के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि इससे हमारी जिम्मेदारी बढ़ गई है.

पश्चिम बंगाल में BJP को बंपर जीत, ममता बनर्जी को जनता ने दिया करारा जवाब

महागठबंधन लालू की रह गई कमी

बिहार में महागठबंधन की इस स्थिति का जिम्मेदार कही ना कहीं लालू यादव का ना होना भी बताया जा रहा है. आरजेडी के तेजस्वी यादव चुनाव प्रचार सही तरीके और पूरे नेतृत्व के साथ नहीं कर पाए, उनके लीडरशिप में कुशलता का अभाव दिखा. अगर लालू जेल ना गए होते, तो शायद बिहार में आरजेडी की ऐसी स्थिति ना होती. इस बार महागठबंधन के तालमेल में काफी कमी दिखी, जो हार का सबसे बड़ा कारण रही.

Video: BJP की प्रचंड जीत, PM मोदी का हुआ 'महानायक' जैसा स्वागत, एक झलक पाने के लिए बेताब दिखे लोग

First published: 24 May 2019, 9:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी