Home » इंडिया » Left leaders meet Delhi CM Arvind Kejriwal over #JNU row
 

जेएनयू प्रेसिडेंट की रिहाई को लेकर केजरीवाल से मिले वामपंथी नेता

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 February 2016, 17:58 IST
QUICK PILL
  • अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा है कि देश के भीतर किसी भी कीमत पर राष्ट्रविरोधी गतिविधियों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. केजरीवाल ने कहा, \'किसी भी हालत में कोई राष्ट्रविरोधी गतिविधि बर्दाश्त नहीं की जानी चाहिए. जो इसके लिए जिम्मेदार हैं उनकी पहचान कर सजा दी जानी चाहिए.\'
  • माकपा नेता सीताराम येचुरी ने आरोप लगाया कि जेएनयू के नए वाइस चांसलर सरकार की शह पर काम कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि वाइस चांसलर ने पुलिस को कैंपस के भीतर कार्रवाई की इजाजत दी. 

जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्रसंघ के प्रेसिडेंट कन्हैया कुमार की गिरफ्तारी के बाद बाद राजनीति गरमाती जा रही है. सीपीएम के महासचिव सीताराम येचुरी, सीपीआई के डी राजा और जेडी-यू के केसी त्यागी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की. 

मुलाकात के बाद केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए कहा कि देश के भीतर किसी भी कीमत पर राष्ट्रविरोधी गतिविधियों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. केजरीवाल ने कहा, 'किसी भी हालत में कोई राष्ट्रविरोधी गतिविधि बर्दाश्त नहीं की जानी चाहिए. जो इसके लिए जिम्मेदार हैं उनकी पहचान कर सजा दी जानी चाहिए.' 

arvind1.jpg

इस बीच कांग्रेस वाइस प्रेसिडेंट राहुल गांधी के भी आज शाम जेएनयू जाकर छात्रों से मिलने का कार्यक्रम है. गांधी के जेएनयू जाने से पहले दिल्ली कांग्रेस प्रेसिडेंट अजय माकन विश्वविद्यालय पहुंच चुके हैं.

 

गृहमंत्री से मिला आश्वासन

केजरीवाल से मिलने से पहले वाम नेताओं ने इस मसले को लेकर गृह मंत्री से मुलाकात की थी.गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात के बाद सीताराम येचुरी ने कहा, 'हमने गृह मंत्री से मुलाकात की और उन्हें जेएनयू कैंपस के तनावपूर्ण माहौल से अवगत कराया. दिल्ली पुलिस ने कार्यक्रम में शामिल हुए 20 छात्रों की लिस्ट जारी की है. इसमें सीपीआई नेता डी राजा की बेटी भी शामिल है. हमारा सवाल है कि क्या यह लोग वीडियो में नारेबाजी करते दिख रहे हैं?'

येचुरी ने कहा, 'जो लोग वहां मौजूद थे वह छात्र संघ या समूहों के सदस्य थे. लेकिन इसका मतलब यह नहीं हुआ कि वह उसमें शरीक भी थे. हमने कन्हैया के रिहाई की मांग की है और गृहमंत्री ने हमें भरोसा दिया है कि किसी निर्दोष छात्र के खिलाफ कार्रवाई नहीं की जाएगी.'

सरकार की शह पर काम कर रहे वीसी

येचुरी ने आरोप लगाया कि जेएनयू के नए वाइस चांसलर सरकार की शह पर काम कर रहे हैं. उन्होंने कहा, 'वाइस चांसलर ने पुलिस को कैंपस के भीतर कार्रवाई की इजाजत दी. ऐसा सभी विश्वविद्यालयों में हो रहा है. वाइस चांसलर हटाए जा रहे हैं और सरकार ऐसे लोग को नियुक्त कर रही है जो उनके इशारों पर काम कर रहा है.'

कन्हैया कुमार को राष्ट्रद्रोह के मामले में गिरफ्तार किया गया है. इस मामले में बीजेपी सांसद महेश गिरी ने मामला दर्ज कराया था जिसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए कन्हैया को गिरफ्तार किया. गिरी के मुकदमा दर्ज कराए जाने के बाद गृहमंत्री ने कहा था कि राष्ट्रविरोधी मामले में किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा और इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए कन्हैया को गिरफ्तार किया. पुलिस को इस मामले में पांच अन्य छात्रों की तलाश है जो फिलहाल भूमिगत बताए जा रहे हैं.

First published: 13 February 2016, 17:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी