Home » इंडिया » Lockdown in India: Know here what will open and close during lockdown for 21 day
 

लॉकडाउन के दौरान भी चालू रहेंगी ये सेवाएं, 21 दिनों तक किसी जरूरी सामान की नहीं होगी कमी

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 March 2020, 9:28 IST

Lockdown in India: कोरोना वायरस (Corona Virus) के प्रकोप को बढ़ते देश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने देशभर को लॉकडाउन (Lockdown) कर दिया है. ऐसे में लोगों को सामने तमाम सवाल पैदा हो गए हैं कि 21 दिनों तक किए गए इस लॉकडाउन के दौरान उन्हें खाने-पीने जैसी जरूरी चीजें कैसे मिलेंगी. तो इसका जवाब में यही कहा जा सकते हैं कि चिंता करने की कोई बात नहीं! क्योंकि लॉकडाउन के दौरान भी आपकी जरूरत का हर सामान आपको मिलता रहेगा. हालांकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार शाम आठ बजे जब राष्ट्र को संबोधित किया तो कहा कि ये लॉकडाउन कर्फ्यू जैसा ही है. इसे सख्ती से लागू किया जाएगा. बता दें कि देशभर में अब तक कोरोना के 562 मामले सामने आ चुके हैं. इनमें से 11 लोगों की मौत हो चुकी हैं. हालांकि 40 लोग इलाज के बाद ठीक भी हो चुके हैं.

इन्हीं सभी वजहों से पूरे देश में लॉकडाउन किया गया हैं. पीएम मोदी ने लॉकडाउन की घोषणा के दौरान लोगों से अपील कि जो जहां हैं, वहीं रहें. यह लॉकडाउन आपके भविष्य के लिए बेहद जरूरी है. प्रधानमंत्री ने लोगों से किसी भी कीमत पर घर के बाहर नहीं निकलने की सलाह दी है. अपने संबोधन के दौरान उन्होंने कहा कि 22 मार्च को जनता कर्फ्यू का संकल्प जो हमने लिया था उसकी सिद्धी के लिए भारत के लोगों ने योगदान दिया.

बता दें कि तीन सप्ताह यानी 21 दिनों के देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान कई जरूरी सेवाओं को छूट मिलती रहेगी. इस दौरान सब कुछ बंद रहेगा लेकिन कुछ चीजों को छूट दी गई है जो सीधे आम जनता की जरूरत से जुड़ी हुई है. इनमें राशन, किराना, फल, सब्जी, दूध, मछली, मीट, चारा की दुकानें खुली रहेंगी. साथ ही दवाई और मेडिकल सुविधाओं की भी कमी नहीं होगी.
इस लॉकडाउन के दौरान सभी परिवहन सेवाएं (सड़क, रेल और हवाई) बंद रहेंगी.

लॉकडाउन के नियमों का पालन कराने को जिलाधिकारी द्वारा कार्यकारी मजिस्ट्रेट तैनात रहेंगे. उचित मूल्य की दुकानें और खाद्य, किराना, फल, सब्जी, डेयरी, मांस, मछली, पशु चारे की दुकानें खुली रहेंगी. रक्षा प्रतिष्ठान, रसोई गैस, पेट्रोल पंप, आपदा प्रबंधन, पोस्ट ऑफिस, एनआईसी और मौसम संबंधी एजेंसियां भी काम करती रहेंगी. साथ ही बिजली, पानी और स्वच्छता, नगर निगम से जुड़ी संस्थाएं भी काम करेंगी. इसके अलावा बैंक, बीमा कार्यालय और एटीएम भी पहले की तरह काम करेंगे.

लॉकडाउन के दौरान बंद रहेंगी ये सेवाएं

लॉकडाउन के दौरान सभी फैक्ट्री, वर्कशॉप, ऑफिस, गोदाम, हफ्ते में लगने वाले बाजार बंद रहेंगे. केंद्र और राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों के सभी दफ्तर, ऑटोनॉमस ऑफिस और कॉर्पोरेशन बंद रहेंगे. इस दौरान पुलिसकर्मी, चिकित्सा सेवाओं से जुड़े लोग, मीडियाकर्मी और सफाईकर्मी अपनी सेवाएं देते रहेंगे.

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि तमाम तैयारियां और प्रयासों के बावजूद चुनौती बढ़ती जा रही है. सभी देशों के दो महीने के अध्ययन से निष्कर्ष निकल रहा है कि इस वैश्विक महामारी से प्रभावी मुकाबले के लिए एकमात्र विकल्प है सोशल डिस्टेंसिंग यानी एक दूसरे से दूर रहना. अपने घर में ही बंद रहना. कोरोना से बचने का इसके अलावा कोई रास्ता नहीं है. कोरोना को फैलने से रोकना है तो उसके संक्रमण के साइकल को तोड़ना होगा.

कोरोना वायरस: PM मोदी का बड़ा ऐलान- रात 12 बजे से 21 दिन तक पूरे देश में लॉकडाउन

कोरोना वायरस: संकट के बीच आम जनता को मोदी सरकार का तोहफा, किए ये बड़े ऐलान

अब चीन में 'हंता वायरस' से मौत के बाद हड़कंप, जानिए कैसे फैलता है और क्या हैं इसके लक्षण

 

First published: 25 March 2020, 9:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी