Home » इंडिया » Lockdown in India: Modi government will give ration at cheap rate to 80 crore people
 

लॉकडाउन के दौरान 80 करोड़ लोगों को सस्ती दरों पर राशन देगी सरकार, जानिए क्या है मोदी सरकार का प्लान

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 March 2020, 10:10 IST

Lockdown in India: कोरोना वायरस (Corona Virus) के प्रसार को रोकने के लिए देशभर (Worldwide) में किए गए लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान लोगों को राशन (Ration) की दिक्कत ना हो इसके लिए सरकार (Government) ने तैयारियां पूरी कर ली हैं. इसके अलावा कालाबाजारी और जमाखोरों पर सख्ती करने की बात कही है. बुधवार (Wednesday) को हुई कैबिनेट की बैठक (Cabinet Meeting) के बाद केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) कड़ी चेतावनी देते हुए कहा कि कालाबाजारी और जमाखोरी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी.

जावड़ेकर ने लोगों से किसी अफवाह में न आने की सलाह भी दी. उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान सामान्य दिनों की तरह ही जरूरी वस्तुओं की आपूर्ति जारी रहेगी. कैबिनेट मंत्री जावड़ेकर ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण पूरी दुनिया संकट के दौर से गुजर रही है. इससे बचने का एक मात्र उपाय सामाजिक दूरी बनाए रखना है. उन्होंने कहा कि इस कारण लॉकडाउन किया गया है जिससे सामान्य लोगों की परेशानी बढ़ी है. जावड़ेकर ने कहा कि इसी को देखते हुए केंद्र ने 80 करोड़ लोगों को राहत देने का रास्ता खोज रही है. जिसके तहत देशभर में एक व्यक्ति को 21 किलो अनाज मिलने का रास्ता साफ हो जाएगा. इसके लिए आवश्यक तैयारी कर ली गई है.

इसके साथ ही केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर ने जमाखोरी-कालाबाजारी करने वालों को सख्त संदेश दिया. उन्होंने कहा कि ऐसी शिकायतों के खिलाफ त्वरित और सख्त कार्रवाई की जाएगी. ऐसे मामलों से सख्ती से निपटा जाएगा. साथ ही लोगों से अफवाहों से बचने की अपील की. जावड़ेकर ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान जरूरी चीजों की कोई किल्लत नहीं होगी. सामान्य दिनों की तरह ही राशन, दूध, दवाई, मांस सहित जरूरी दुकान खुले रहेंगे.

लोग इन जगहों पर सामान्य दिनों की तरह ही आवश्यक वस्तुओं की खरीददारी कर सकते हैं. इसलिए अफवाह में आ कर डर के चलते जरूरत से ज्यादा खरीददारी न करें. जिससे जमाखोरी और कालाबाजारी को बढ़ावा मिलेगा. बता दें कि बुधवार को प्रधानमंत्री आवास पर हुई कैबिनेट मीटिंग में सामाजिक दूरी का भी ध्यान रखा गया. इस दौरान सभी मंत्री दूर-दूर बैठे नजर आए. इससे साफ हो गया है कि सरकार सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए कितनी सजग है.

coronavirus : उत्तर कोरिया में कोरोना वायरस का एक भी मामला नहीं, दुनिया को किम जोंग पर शक

कोरोना वायरस: दुनियाभर में अब तक 21,000 से ज्यादा मौतें, इटली, स्पेन, फ्रांस में हालात बेहद खराब

MP में हड़कंप: पत्रकार निकला कोरोना पॉजिटिव, चपेट में BJP-कांग्रेस नेता और सरकारी अफसर

First published: 26 March 2020, 10:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी