Home » इंडिया » Lockdown: What states want after May 3, Chief Ministers of states are discussing with PM Modi
 

Lockdown : 3 मई के बाद क्या चाहते हैं राज्य, पीएम मोदी के साथ चर्चा कर रहे हैं मुख्यमंत्री

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 April 2020, 12:29 IST

Coronavirus Lockdown : 3 मई तक बढ़ाया गया लॉक डाउन अपने अंतिम सप्ताह में पहुंच गया है. आगे की रणनीति के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक कर रहे हैं. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ इस वीडियो कॉन्फ्रेंस बैठक में हिस्सा नहीं ले रहे हैं. लॉकडाउन को लेकर केरल ने अपने सुझाव लिखित रूप में दिए हैं. केरल के मुख्य सचिव बैठक में हिस्सा ले रहे हैं. इस बैठक में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी भाग ले रहे हैं.

क्या बोले राज्यों के मुख्यमंत्री 


मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इस दौरान पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी नेव्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) और अन्य चिकित्सा उपकरण प्रदान करने के लिए केंद्र के हस्तक्षेप की मांग की है. एक रिपोर्ट के अनुसार मीटिंग में उत्तराखंड के त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि सभी एहतियाती उपायों पर ध्यान देने के साथ व्यापार और व्यापार गतिविधियां चरणबद्ध तरीके से शुरू होनी चाहिए उन्होंने कहा कि सरकारों को धीरे-धीरे स्थिति को सामान्य करके लोगों के जीवन को आसान बनाना चाहिए. रावत ने कहा कि राज्य में सभी विकास कार्य पहले से ही जारी हैं, जिसमें मनरेगा भी शामिल है.

हिमाचल के सीएम जय राम ठाकुर ने कहा कि वे अब आर्थिक गतिविधियों को शुरू करने की स्थिति में हैं. उन्होंने कहा कि लॉकडाउन पर निर्णय अन्य राज्यों के परामर्श और विचार में लिया जाना चाहिए. उन्होंने कहा “हम लोगों का टेस्ट कर रहे हैं क्योंकि सीमावर्ती राज्यों ने मामलों की सूचना दी है. हम बहुत खुश हैं कि हिमाचल के 12 जिलों में कोई पॉजिटिव मामला नहीं है.

ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक ने कई सुझाव दिए और कहा कि राष्ट्रीय लॉकडाउन जारी रहना चाहिए, लेकिन महत्वपूर्ण गतिविधियों की अनुमति दी जानी चाहिए. पटनायक ने कहा कि सार्वजनिक समारोहों, धार्मिक और शैक्षणिक संस्थानों को पूरी तरह से रोकना चाहिए और केवल राज्यों के भीतर आर्थिक गतिविधियों के लिए आग्रह करना चाहिए. उन्होंने केंद्र से अर्थव्यवस्था को शुरू करने का आग्रह किया.

इस मीटिंग में दिल्ली सीएम अरविन्द केजरीवाल, तमिलनाडु के सीएम के पलनीस्वामी, कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा और महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने भी हिस्सा लिया. प्रधानमंत्री के साथ बैठक में कम से कम नौ मुख्यमंत्रियों के बोलने की उम्मीद है. बिहार, ओडिशा, गुजरात, हरियाणा, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश, पुडुचेरी के मुख्यमंत्रियों वारा अपनी राय रखी जाएगी.

कोरोना वायरसः दुनियाभर में अब तक 2 लाख छह हजार से ज्यादा लोगों की मौत, भारत में 27 हजार संक्रमित

पूर्वोत्तर से मेघालय और मिजोरम के मुख्यमंत्री बोलेंगे. अन्य राज्यों के मुख्य सचिव या अन्य मंत्रालयों को बैठक में भाग लेने का विकल्प है. स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार भारत में पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या बढ़कर 27,892 हो गई है. इसमें 20835 सक्रिय मामले और 6185 ठीक हुए हैं.

Coronavirus : पिछले 24 घंटों में भारत के 7 बड़े राज्यों में आये कितने COVID-19 के मामले

First published: 27 April 2020, 12:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी